आज का ये योग, इन राशिवालों को देगा गजब का फायदा

इस योग का राशियों पर अलग अलग प्रभाव...

ज्योतिष में ग्रहों की आपसी चाल व नक्षत्रों के आधार पर कई तरह के योग का निर्माण होता है। इनमें से कुछ योग जहां दिन के आधार पर बनते हैं, वहीं कुछ का निर्माण आपकी कुंडली में होता है। दिन और समय के आधार पर जहां सर्वार्थसिद्धि योग, अमृतयोग आदि का निर्माण होता है, वहीं कुंडली में गजकेसरी योग या बुधादित्य योग आदि का निर्माण होता है। जहां अधिकांश योग लाभकारी माने जाते हैं, वहीं कुछ योग कालसर्प जैसे अनिष्टकारी भी माने जाते हैं।

वहीं आज यानि 31 जुलाई 2020,शुक्रवार को समसप्तक योग का निर्माण हो रहा है। वैदिक ज्योतिष (Vedic Jyotish) में समसप्तक योग तब बनता है, जब दो या दो से अधिक ग्रहों की युति होती है। जब वे एक दूसरे से सातवें स्थान पर होते हैं तब इस योग का निर्माण होता है। परंतु इस योग के शुभ फल ग्रहों की युति, लग्न अनुसार ग्रहों का योग और शुभ-अशुभ ग्रहों की स्थिति के अनुसार ही प्राप्त होते हैं।

MUST READ : कोरोना संक्रमण- इस दिन से शुरु होगा समाप्ति का सफर, जानें बचाव के कुछ खास ज्योतिषीय उपाय

https://www.patrika.com/hot-on-web/corona-infection-will-come-down-from-this-date-in-india-6306245/

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार इस बार 31 जुलाई 2020 को शुक्र वृषभ राशि से मिथुन राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं, जहां पर पहले से ही राहु और बुध विराजमान होंगे, जबकि धनु राशि में बृहस्पति के साथ केतु भी विराजमान होंगे। ऐसे में बृहस्पति और शुक्र एक-दूसरे से सातवें स्थान पर होने से समसप्तक योग का निर्माण करेंगे।

वैदिक ज्योतिष में शुक्र और बृहस्पति को विरोधी ग्रह माना जाता है, इसलिए इस योग का राशियों पर अलग अलग प्रभाव पड़ेगा। आइए जानते हैं ये योग किन राशियों के लिए होगा खास लाभकारी...

MUST READ : क्या आप मांगलिक दोष से पीड़ित हैं? तो मंगलवार के ये उपाय आपको देंगे राहत

https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/manglik-marriage-problem-then-here-is-the-solution-6300767/

: वृषभ राशि :
शुक्र के स्वामित्व वाली इसी राशि से शुक्र का परिवर्तन हो रहा है, जिसकी वजह से इस राशि के जातकों को समसप्तक योग के शुभ फल प्राप्त होंगे। आपके पारिवारिक जीवन में सुधार होने के आसार हैं साथ ही आप अपने परिजनों के साथ खास समय बिता पाएंगे।

कॅरियर के मामले में आपको व्यापार में लाभ मिलेगा। जबकि आपका धन खर्च भी हो सकता है। वृषभ राशि के लोगों को संतान पक्ष की तरफ से खुशखबरी भी मिल सकती है। आप अपनी मधुर वाणी से लोगों को आकर्षित करने में सक्षम होंगे।

: मिथुन राशि :
वृषभ राशि से परिवर्तन के बाद शुक्र गोचर करके मिथुन राशि में ही प्रवेश करने जा रहे हैं। ऐसे में गुरु-शुक्र की युति से बनने वाला समसप्तक योग इस राशि के जातकों के लिए भी लाभकारी होगा।

इस राशि के जातकों को कॅरियर के मामले में नौकरीपेशा वालों को इंक्रीमेंट और प्रमोशन मिलने की उम्मीद है। आपको धन के नये स्त्रोत प्राप्त हो सकते हैं और आपके व्यापार में वृद्धि भी हो सकती है। वहीं शिक्षा के क्षेत्र में सफलता प्राप्त होगी।

: सिंह राशि :
आपकी राशि के एकादश भाव में शुक्र का परिवर्तन होगा, जिसकी वजह से समसप्तक योग का आपको भी शुभ फल मिलेगा। सिंह राशि के जातकों की सभी अधूरी मनोकामनाएं पूरी होने के आसार हैं। कॅरियर के मामले में आपको कार्यक्षेत्र में मेहनत से काम करने की वजह से आपकी प्रशंसा होगी और इस महिलाओं को धन लाभ भी हो सकता है। इसके अतिरिक्त आपको सरकारी योजना का भी लाभ प्राप्त हो सकता है।

: तुला राशि :
आपकी ही राशि के स्वामी शुक्र आपके लिए भाग्य स्थान पर आ रहे हैं, जिसकी वजह से समसप्तक योग आपके लिए भाग्यशाली रहेगा। इसके फलस्वरूप यदि आप किसी कानूनी मामले में फंसे हुए हैं तो आपको उसमें सफलता मिल सकती है। इस राशि के जातक लंबे वक्त से चली आ रही बीमारी से निजात पा सकते हैं। तुला राशि के वैवाहिक जातकों का वैवाहिक जीवन सुखमय गुजरेगा। आपकी बौद्धिक क्षमता में वृद्धि होगी। आपकी आध्यात्म के प्रति रुचि बढ़ सकती है।


: धनु राशि :
शुक्र आपकी राशि के सातवें भाव में प्रवेश करेंगे, इस वजह से गुरु-शुक्र युति से बने योग का प्रभाव शुभ रहेगा। आपको समसप्तक योग की वजह से समाज में यश, मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। आपके माता-पिता की सेहत अच्छी रहेगी और नवदंपत्ति के घर में नया सदस्य भी आ सकता है। यदि आपका लंबे वक्त से किसी के साथ विवाद चल रहा है तो वह भी दूर हो जाएगा। आपको ससुराल पक्ष की तरफ से धन लाभ हो सकता है और शिक्षा से जुड़े जातकों को प्रतियोगी परीक्षा में सफलता प्राप्त होगी।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned