scriptAyudha Pooja 2022: ayudha puja date 2022, shubh muhurat and significance | Ayudha Pooja 2022: कब है आयुध पूजा, जानिए तिथि, मुहूर्त और इसका महत्व | Patrika News

Ayudha Pooja 2022: कब है आयुध पूजा, जानिए तिथि, मुहूर्त और इसका महत्व

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, आयुध पूजा को मूल रूप से उपकरणों की पूजा के रूप में जाना जाता है। इस दिन अपने कॉलेज, दफ्तर, उद्योगों और घरों में काम आने वाले विभिन्न उपकरणों जैसे किताब, मशीनों, शस्त्रों या हथियारों, बर्तन आदि की पूजा कर उन्हें सम्मानित किया जाता है। पंचांग के अनुसार यह पूजा हर साल नवरात्रि उत्सव के नौवें दिन की जाती है।

नई दिल्ली

Updated: September 14, 2022 11:30:23 am

Ayudha Pooja 2022 Date Muhurat And Significance: हिन्दू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार आयुध पूजा को बहुत महत्व दिया गया है। पंचांग के मुताबिक यह पूजा हर साल नवरात्रि उत्सव की नवमी तिथि को की जाती है। हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, मान्यता है कि आयुध पूजा में लोग देवताओं के आशीर्वाद से अपनी आजीविका से जुड़े शस्त्रों या उपकरणों की पूजा कर उन्हें सम्मानित करते हैं। इस साल 4 अक्टूबर 2022 को आयुध पूजा की जाएगी। आइए जानते हैं पूजा का शुभ मुहूर्त और इसका महत्व...

ayudha pooja 2022 date, ayudha puja date 2022, ayudha puja vidhi, when is ayudha puja in 2022, आयुध पूजा का मुहूर्त, आयुध पूजा का समय, maha navami date 2022,
Ayudha Pooja 2022: कब है आयुध पूजा, जानिए तिथि, मुहूर्त और इसका महत्व

आयुध पूजा 2022 मुहूर्त
पंचांग के अनुसार, अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि की शुरुआत 3 अक्टूबर 2022 रात्रि 08:07 बजे होगी और इसकी समाप्ति 4 अक्टूबर 2022 रात्रि 06:52 बजे पर होगी। वहीं आयुध पूजा 4 अक्टूबर 2022 को की जाएगी।

आयुध पूजा का महत्व
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, आयुध पूजा को मूल रूप से उपकरणों की पूजा के रूप में जाना जाता है। इस दिन अपने कॉलेज, दफ्तर, उद्योगों और घरों में काम आने वाले विभिन्न उपकरणों जैसे किताब, मशीनों, शस्त्रों या हथियारों, बर्तन आदि की पूजा कर उन्हें सम्मानित किया जाता है। वहीं दक्षिण भारत के राज्यों में, छात्र ज्ञान की देवी मां सरस्वती और अपनी किताबों की पूजा करते हैं। वहां इस दिन को सरस्वती पूजा के रूप में जाना जाता है। नवरात्रि के नौवें दिन लोग अपने उपकरणों, शस्त्रों, मशीनों और औजारों आदि की साफ-सफाई कर उनकी पॉलिश करते हैं और फिर उन उपकरणों को चंदन, कुमकुम लगाकर पूजा की जाती है। वहीं विद्यार्थी अपनी कॉपी-किताबों और व्यापारी अपने बही-खाते पूजते हैं। इस पूजा के पीछे धार्मिक मान्यता है कि लोग अपने उपकरणों की पूजा कर भगवान से प्रार्थना करते हैं कि उनकी मशीनें हमेशा सुरक्षित रहें और लोगों सकुशल काम करते हुए अपने क्षेत्र में सफलता हासिल करें।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

दिल्ली शराब नीति घोटाला: दिल्ली-पंजाब-हैदराबाद में 35 ठिकानों पर ED के छापेMumbai News: मुंबई में 120 करोड़ रुपये की ड्रग्स जब्त, NCB ने एयर इंडिया के पूर्व पायलट सहित छह लोगों को किया गिरफ्तारकफ सीरीप से 66 मौतें: भारत में सप्लाई के लिए फार्मा कंपनी के पास नहीं था लाइसेंस, 10 जरूरी अपडेटअभिनेता अरुण बाली का मुंबई में हुआ निधन, आखिरी बार लाल सिंह चड्ढा में आए थे नजरUddhav Vs Shinde: शिवसेना का चुनाव चिह्न 'धनुष-बाण' आखिर किसका? चुनाव आयोग में आज हो सकता है निर्णयउत्तराखंड में हिमस्खलन स्थल से अब तक 19 शव बरामद, 10 अभी लापता, मौसम बन रहा बाधाIND vs PAK: एशिया कप में आज फिर आमने सामने होंगे भारत और पाकिस्तान, देखें कौन किसपर भारी'हिजाब विरोध' में ईरानी महिलाओं को लेकर Priyanka Chopra ने कही ये बात! महसा अमिनी की मौत पर बोलीं - 'अब नहीं रुकेंगी...'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.