धुंआ उगलने लगे सहारनपुर के उद्याेग, अब शायद ही दिख पाएंगी हिमालय की पहाड़ियां

Highlights

  • लॉक डाऊन के बीच सहारनपुर से दिखने लगी थी यमनाैत्री की पहाड़ियां
  • अब पेपर मिल समेत अन्य उद्योगों की चिमिनियां उगलने लगी धुंआ

By: shivmani tyagi

Updated: 10 May 2020, 07:19 PM IST

सहारनपुर। लॉक डाउन ( lockdown ) में आपने सहारनपुर (Saharanpur)
से हिमालय ( Himalayan ) की पहाड़ियां ( hills ) देखी थी लेकिन अब प्रकृति के इस सुंदर नजारे ( beautiful nature ) काे देखने का अवसर शायद ही दाेबारा मिल पाएगा। इसका कारण यह है कि फैक्ट्रियों की चिमनियों ने धुंआ उगलना शुरू कर दिया है।

यह भी पढ़ें: राहत: देवबंद में आठ दिनों से कोरोना का काेई नया मामला नहीं

lockdown3 में अब कई तरह के उद्योगों काे सशर्त अनुमति मिल गई है। सहारनपुर की स्टार पेपर मिल की यह तस्वरी हम आपको दिखा रहे हैं। इस तस्वीर में आप देख सकते हैं कि किस तरह से चिमनी धुंआ उगल रही है। स्टार पेपर मिल के अलावा अन्य फैक्ट्रियों काे भी अऩुमति मिल गई है। इन सभी की चिमनियों से धुंआ निकल रहा है। यह धुंआ हवा में मिलने से सैकड़ों किलाेमीटर का विजन धुंधला हाेने की आशंका जताई जा रही है।

यह भी पढ़ें: यूपी : अचानक बदला मौसम गर्जनाओं के साथ बरसात शुरू, विशेषज्ञों ने बताई बड़ी वजह

एक सप्ताह पहले सहारनपुर से हिमालय पर्वत की श्रंखला वाली बर्फीली पहाड़ियां दिखाई दी थी। यह प्रकृति का बेहद सुंदर रूप था जाे लॉकडाउन के असर के रूप में दिखाई दिया था। इन तस्वीरों काे भारत ही नहीं विदेशों में भी सराहा गया था। लॉकडाऊन इम्पैक्ट के रूप में यह प्रस्तुत की गई थी। इसके पीछे भी वजह थी। दरअसल लॉक डाउन में उद्योंग बंद थे वाहन बंद थे और लोग भी अपने घरों से बाहर निकल नहीं रहे थे।

यह भी पढ़ें: राहत: देवबंद में आठ दिनों से कोरोना का काेई नया मामला नहीं

इससे वातावरण में धूल के कण काफी कम हाे गए थे। वातावरण साफ हाेने से विजन बढ़ गया था। यही माना जा रहा था कि वातावरण साफ हाेने से सहारनपुर से यमनाैत्री तक की पहाड़ियां दिखाई दी है। अब फैक्ट्रियों में जब धुंआ निकलना शुरू हाे गया है ताे एक बार फिर से प्रदूषण बढ़ेगा और इसके बाद शायद ही सहारनपुर के लाेग शायद ही वह मनमाेहक नजारा दाेबारा देख पाएंगे।

hills.jpg

अब शायद ही दिख पाएगी यें तस्वीर

क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बाेर्ड सहारनपुर के क्षेत्रीय अधिकारी आरएस माैर्य का कहना है कि, फैक्ट्रियों के चलने के बाद प्रदूषण का स्तर बढ़ेगा और उससे विजन जरूर कम हाेगा। ऐसे में यह कहना गलत नहीं है कि अगर सहारनपुर से यमनाैत्री की पहाड़ियां लॉक डाउन के बीच दिखाई दी थी ताे वह अब शायद ही दिखाई दे पाएंगी।

hills1.jpg
COVID-19
Show More
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned