सावधान: बाजार में बिक रहे नकली पल्स ऑक्सीमीटर, ऐसे करें पहचान

कोरोना Corona virus संक्रमण में उखड़ती सासों और गिरते ऑक्सीजन oxygen लेवल के बीच पल्स ऑक्सीमीटर Pulse Oximeter की मांग तेजी से बढ़ी है। इसी का फायदा उठाने के लिए बाजारों में नकली पल्स ऑक्सीमीटर fake oximeter भी बिक रहे हैं। हम आपको तरीका बता रहे हैं जिससे आप महज एक मिनट में Identify in a minute पल्स ऑक्सीमीटर की जांच कर सकते हैं।

By: shivmani tyagi

Updated: 17 May 2021, 11:07 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

सहारनपुर. कोरोना संक्रमण ( Corona virus ) के इस दौर में लोगों की घटती ऑक्सीजन के बीच पल्स ऑक्सीमीटर ( Pulse Oximeter ) सभी घरों की आवश्यकता बन गया है। पल्स ऑक्सीमीटर हमारी बॉडी में ऑक्सीजन लेवल बताता है। यही वजह है कि बाजार में इसकी डिमांड तेजी से बढ़ी है। डिमांड बढ़ने की वजह से बाजार में नकली और गलत रीडिंग देने वाले पल्स ऑक्सीमीटर ( fake oximeter ) भी खूब बिक रहे हैं. अब सवाल यह है कि आपका पल्स ऑक्सीमीटर ठीक रीडिंग दे रहा है या नहीं इसकी जांच आप कैसे करेंगे ?

यह भी पढ़ें: Corona Pandemic : ट्रिपल टी की रणनीति से कोरोना को मात दे रही योगी सरकार, 'यूपी ब्रीथ' एप से सबको मिलेगी ऑक्सीजन

बाजार में बिक रहे नकली पल्स ऑक्सीमीटर ( Fake pulse oximeters are being sold in the market ) की घर पर ही जांच करने के लिए आज हम आपको एक बहुत ही सरल और सटीक तरीका बता रहे हैं। इसके लिए आपको किसी भी तकनीकी उपकरण की आवश्यकता नहीं होगी। आप महज के एक रबर के छल्ले से घर पर ही या खरीदने से पहले दुकान पर ही पल्स ऑक्सीमीटर की जांच कर सकेंगे. इस तरीके से आप नकली पल्स ऑक्सीमीटर खरीदने से तो बचेंगें ही अगर आपके घर का ऑक्सीमीटर गलत रीडिंग दे रहा हैं तो आप उसे भी ट्रैप कर लेंगे और बड़ा खतरा टल जाएगा। इस खबर के साथ वीडियो में घर पर ही पल्स ऑक्सीमीटर को चेक करना का पूरा तरीका भी बताया गया है आप वीडियो देखकर भी पल्स ऑक्सीमीटर चेक करने की पूरी विधि को समझ सकते हैं।

यह भी पढ़ें: इंडियन रेलवे ने यूपी में पहुंचाई 1960 टन मीट्रिक टन ऑक्सीजन, सरकार का दावा- ऑक्सीजन की किल्लत खत्म

ऐसे करें पहचान ( Pulse oximeter increased demand in the market )
आपका पल्स ऑक्सीमीटर सही रीडिंग दे रहा है या नहीं इसका पता लगाने के लिए आपको अपने सीधे हाथ की बीच वाली उंगली ( राइट हैंड की मि़डिल फिंगर ) को पल्स ऑक्सीमीटर में डालना है। इसके बाद ऑक्सीमीटर जो रीडिंग देगा उसे चेक करना है. इसके बाद आपको अपनी फिंगर निकाल लेनी है और इस फिंगर पर बीच में रबर के छल्ले को टाइट करके लपेट लेना है। रबर को इस तरह से टाइट करना है ताकि फिंगर के अगले हिस्से में ब्लड सरकुलेशन पूरी तरह से ब्लॉक हो जाए। इसके बाद दोबारा अपनी इसी उंगली ( फिंगर ) को को उसी ऑक्सीमीटर में रखना है।

यह भी पढ़ें: ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर भागने वाले भाजपा विधायक हुए लापता, सोशल मीडिया पर जमकर वायरल

अगर इस बार भी आपका ऑक्सीमीटर रीडिंग देता है, पल्स रेट बताता है तो इसका सीधा मतलब है कि आपका ऑक्सीमीटर सही नहीं है। वह खराब है या फिर नकली है। रबर लगने से फिंगर का ब्लड सर्कुलेशन पूरी तरह से बंद हो जाएगा। ऐसे में ऑक्सीमीटर रीडिंग नहीं दे पाएगा लेकिन अगर इसके बाद भी ऑक्सीमीटर रीडिंग दे रहा है तो इसका सीधा मतलब है कि वह खराब है। तो इस तरह आप घर पर ही ऑक्सीमीटर को चेक कर सकते हैं। ऑक्सीमीटर को घर पर ही चेक करना का यह बिल्कुल सटीक और आसान तरीका है। यहां यह भी जान लेना जरूरी है कि बाजार में कुछ ऐसे भी पल्स ऑक्सीमीटर बिक रहे हैं जो सही रीडिंग नहीं दिखाते, यानी इस टेस्ट में तो वो पास हो जाएंगे लेकिन सही रीडिंग नहीं दिखाएंगें। इसके लिए आप एक समय में एक ही व्यक्ति को एक से अधिक ऑक्सीमीटर लगाकर चेक कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना को मंजूरी, कोविड इलाज से जुड़े नई इकाई की स्थापना पर 10 करोड़ सब्सिडी देगी सरकार

Corona virus
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned