बेटे की चाह में पिता ने एक साल की बेटी को बेरहम से माैत के घाट उतारा

  • प्रेम विवाह के बाद पत्नी से कर रहा था बेटे की मांग
  • पुलिस ने हत्यारोपी पिता को किया गिरफ्तार
  • जन्म के बाद बेटी काे पिता ने नहीं लिया था गाेद

By: shivmani tyagi

Updated: 25 Dec 2020, 07:00 PM IST

father.jpg

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
सहारनपुर ( Saharanpur ) यह घटना आपके रोंगटे खड़े कर देगी। नूर बस्ती में एक पिता ने बेटे की चाह में अपनी एक साल की मासूम बेटी ( doughter
) को मौत के घाट उतार दिया। बच्ची की मां का कहना है कि उसका पति बेटा चाहता था। जन्म लेने के बाद से ही वह बेटी से नफरत करता था। जन्म के बाद से कभी बेटी काे एक बार गाेद भी नहीं लिया और अब बेरहमीसे उसकी हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: किसान आंदोलन: मुरादाबाद में दिल्ली की ओर जाने वाले सभी रास्ते बंद

घटना ( saharanpur murder ) शुक्रवार सुबह करीब चार बजे की है। काेतवाली नगर क्षेत्र की माेहल्ला नूर बस्ती में रहने वाले चांद ने अपने ही हाथों से फूल सी बेटी को माैत के घाट उतार दिया। पिता ने जब बच्ची को मौत के घाट उतारा तो समय बच्ची की मां सो रही थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है और आरोपित पिता को हिरासत में ले लिया है।

यह है पूरा मामला
नूर बस्ती निवासी मोहम्मद चांद ने करीब डेढ़ साल पहले कालोनी की ही रहने वाली उजमा नाम की लड़की से प्रेम विवाह किया था। दोनों प्रेम से ही रह रहे थे और दोनों के बीच विवाद भी नहीं होते थे। उजमा जब गर्भवती हुई तो चांद ने उजमा यानी अपनी पत्नी से बेटे की मांग करनी शुरू कर दी। करीब एक वर्ष पहले चांद को बेटी पैदा हो गई। चांद की पत्नी उजमा ने बेटी का नाम अलीशा रखा। पत्नी उजमा का कहना है कि उसका पति चांद हमेशा उसकी बेटी से नफरत करता था। कभी उसको गोद तक में नहीं लिया।

यह भी पढ़ें: पुलिस की कार्रवाई पर सवाल: बर्थडे पार्टी से लौटकर घर के बाहर घूम रहे थे युवक और युवती, दर्ज हुआ लव जिहाद का मामला

पिता कहता था कि यह बेटी क्यों हुई मुझे तो बेटा चाहिए ? पति के इन सवालों के पत्नी यानी उजमा के पास काेई जवाब नहीं था। इन्ही सवालों काे लेकर उजमा और चांद के बीच झगड़े हाेने लगे और कई बार दाेनाें के बीच विवाद हुआ। चांद फेरी लगाने का काम करता है। पत्नी के अनुासार हर शाम को वह फेरी लगाकर जब घर पर आता था तो बेटी को नफरत भरी निगाहों से देखता था। शुक्रवार तड़के करीब चार बजे जब पत्नी उजमा सो रही थी। इसी दौरान पिता ने अपनी बेटी अलीशा की गला दबाकर हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: पुलिस की कार्रवाई पर सवाल: बर्थडे पार्टी से लौटकर घर के बाहर घूम रहे थे युवक और युवती, दर्ज हुआ लव जिहाद का मामला

( saharanpur murder case ) उजमा को जब इस बात का पता चला तो उसके पैरों तले से जमीन खिसक गई। उसने तुरंत मायके खबर दी। उजमा के मायके पक्ष के लाेग बेटी के घर पहुंचे और पूरा मामला पुलिस ( Saharanpur Police ) काे बताया। सिटी कोतवाली प्रभारी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस ने हत्यारोपी पिता चांद को हिरासत में ले लिया है। घटना दुखद है मासूम बच्ची के शव काे पाेस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है। हत्यारोपी पिता से बातचीत की जा रही है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned