संत कबीर नगर में हैवान बने पिता ने पेट्रोल डालकर बेटी को जिंदा जलाया, चार गिरफ्तार

  • हत्यारोपी पिता ने कहा बेटी की जिद और मनमानी से था परेशान
  • झूठी इज्जत के लिए डेढ़ लाख रुपए देकर कराई बेटी की हत्या

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
संत कबीर नगर ( santkabeer nagar news ) झूठी शान की खातिर एक पिता ने बड़ी ही बेदर्दी से बेटी की हत्या ( murder ) करवा दी। पिता बेटी की मनमानी से परेशान था। झूठी शान के लिए उसने डेढ़ लाख रुपए देकर अपनी ही बेटी की हत्या का प्लान बनाया। इस वारदात में युवती का भाई और जीजा भी शामिल हुआ। पुलिस ने बहनोई समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि सुपारी किलर और उसका ड्राइवर अभी गिरफ्त से बाहर है।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत चुनाव 2021 पेपरलेस कराने की तैयारियां तेज

घटनाक्रम के मुताबिक मूलरूप से गोरखपुर की रहने वाली रंजना ने अपने परिवार वालों की मर्जी के खिलाफ जाकर प्रेमी के साथ शादी कर ली थी। बाद में वह अपने घर वापस लौट आई थी लेकिन घर पर सुहागिन की तरह ही रहती थी। आर्मी से रिटायर्ड पिता को बेटी की है बात बर्दाश्त नहीं थी। बताया जाता है कि परिवार के लोगों ने कई बार रंजना को समझाया लेकिन वह नहीं मानी। बेटी की इसी जिद से परेशान होकर पिता ने उसकी हत्या का षड्यंत्र रचा और घर से करीब 20 किलोमीटर दूर पेट्राेल से जलाकर बेटी काे मार डाला। मामला खुलने पर जब पुलिस ने हत्यारोपी पिता और बेटे को गिरफ्तार किया तो दोनों ने पुलिस को पूरी घटना बता दी।

यह भी पढ़ें: बिजनौर पहुंची प्रियंका बोली भाजपा ख़बपतियों के लिए लाई है कृषि कानून

( crime against women in up ) पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बेलघाट क्षेत्र के जितवारपुर के रहने वाले कैलाश यादव आर्मी से रिटायर हैं जिनकी तीन बेटियां और एक बेटा है। दाे बेटियाें और बेटे की शादी हाे चुकी है लेकिन उनकी सबसे छोटी बेटी 28 वर्षीय रंजना अविवाहित थी। क्षेत्र के ही रहने वाले एक युवक से रंजना के प्रेम संबध हाे गए। परिवार वालों काे यह मंजूर नहीं हुआ ते रंजना ने भागकर प्रेमी के साथ शादी कर ली। पिता की ओर से आरोपी युवक के खिलाफ बेटी के अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया गया। बाद में लड़की के बयानाें के आधार पर यह मामला खतम हाे गया।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस किसान आन्दोलन के साथ है, तमाशे के नहीं : सलमान खुर्शीद

इस घटनाक्रम के बाद रंजना वापस अपने घर आ गई लेकिन वह सुहागिन की तरह ही रहने लगी। परिवार वालों को यह बात पसंद नहीं थी उन्हाेंने बेटी काे समझाया लेकिन वह नहीं मानी। बेटी की इसी जिद से परेशान हाेकर पिता ने अपने एक दामाद सत्य प्रकाश यादव के माध्यम से सीता राम नामक युवक से संपर्क किया जिसने वरुण तिवारी नाम के एक युवक को डेढ़ लाख रुपए में हत्या की सुपारी दिलवा दी।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना : वसंत पंचमी को शुरू होगी कक्षाएं, सीएम योगी ने किया शुभारंभ

इस तरह पिता और बेटे दोनों मिलकर षड्यंत्र के तहत बेटी को घर से 20 किलोमीटर दूर ले गए जहां सुपाही किलर वरुण तिवारी की मदद से युवती की पेट्रोल डालकर हत्या करवा दी। एसपी डॉक्टर को काैस्तुभ के अऩुसार युवती की लाश जलाने में पेट्रोल का प्रयोग किया गया यह बात साफ हाे चुकी है। सर्विलांस टीम की मेहनत से ऑनर किलिंग की इस घटना का खुलासा हो सका। उन्हाेंने बताया कि, सुपारी किलर वरुण तिवारी का पुराना आपराधिक रिकॉर्ड भी है चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस जल्द आराेपी किलर और उसके ड्राईवर काे भी गिरफ्तार कर लेगी।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned