scriptVegetable Price Hike: सेब के भाव बिक रहे टमाटर, प्याज के रेट सुनकर लोगों ने बोला…इतना महंगा… | Vegetable Price Hike: The price of green vegetables has increased | Patrika News
सीहोर

Vegetable Price Hike: सेब के भाव बिक रहे टमाटर, प्याज के रेट सुनकर लोगों ने बोला…इतना महंगा…

Vegetable Price Hike: सब्जी के भाव अचानक बढऩे के कारण गृहणियों का बजट बिगड़ गया है। प्याज 50 रुपए किलो तक बिक रही है, पिछले सप्ताह 20 रुपए में बिक रही थी।

सीहोरJun 21, 2024 / 01:55 pm

Ashtha Awasthi

Vegetable Price

Vegetable Price

Vegetable Price Hike: बीते 10 दिन से हरी सब्जी के भाव आसमान पर पहुंच गए हैं। टमाटर 80 रुपए प्रति किलो हो गया है और प्याज रसोई में गृहणियों के आंसू निकाल रही है। सब्जी में स्वाद बढ़ाने के लिए उपयोग किया जाने वाला हरा धनिया तो कुछ इस तरीके से वेस्वाद हुआ है कि निम्न और मध्यम वर्गीय परिवारों ने तो इसे खरीदना ही बंद कर दिया है।
सब्जी के भाव अचानक बढऩे के कारण गृहणियों का बजट बिगड़ गया है। चार व्यक्तियों के परिवार में पहले जहां महीने भर में सब्जी पर 1500 रुपए खर्च हो रहे थे, वहीं अब यह बजट बढकऱ 3000 रुपए तक पहुंच गया है। सब्जियों के भाव बढऩे का कारण मौसम को बताया जा रहा है। मई महीने में पड़ी भीषण गर्मी के कारण कई जगह सब्जी की फसल खराब हो गई है, जिससे आवक कम होने से अचानक सब्जी के भाव तेज हो गए हैं।

प्याज 50 रुपए किलो

गृहणी प्रीति व्यास ने बताया कि एक सप्ताह में सब्जी के भाव दोगुने हो गए हैं, मंडी जाएं तो समझ ही नहीं आता है कि क्या खरीदा जाए, हर सब्जी तो महंगी हो गई है। आगे पता नहीं यह कब तक चलेगा, अभी बारिश भी शुरु नहीं हुई है, बारिश में तो सब्जी और भी महंगी हो जाती है। सुधा अग्रवाल बताती हैं कि प्याज 50 रुपए किलो तक बिक रही है, पिछले सप्ताह 20 रुपए में अच्छी प्याज खरीदकर लाए थे। सरकार को सब्जियों के बढ़ते दाम पर रोक लगना चाहिए, मध्यम और निम्न वर्ग को लोग काफी प्रभावित हो रहे हैं।

महाराष्ट्र से भी आती सब्जी

जिले में लोकल के अलावा इंदौर, भोपाल और महाराष्ट्र के नासिक तक की सब्जी की आपूर्ति होती है। रोज करीब 8 से 10 गाड़ी सब्जी बाहर से आती हैं। नौतपा में भीषण गर्मी के कारण कई जगह सब्जी की फसल खराब हो गई। बाहर से आवक कम होने के फेर से सब्जी के भाव रोज बढ़ रहे हैं। बारिश में भी सब्जी की पैदावार कम होती है, इस दौरान भी भाव तेज रही रहते हैं।
बाजार से सब्जी महंगी और कम आने के कारण खेरीज व्यापारी बाजार में दोगुने भाव पर बेच रहे हैं। सब्जी व्यापारी नरेंद्र कुशवाह ने बताया कि इस समय लोकल की सब्जी बहुत कम आ रही है, बाहर से जो माल आ रहा है, वह महंगा है। बाजार से आने वाला माल भाड़े के चक्कर में हमेशा महंगा ही मिलता है। जब व्यापारी महंगा खरीदेगा तो निश्चित ही खेरीज पर असर पड़ेगा।

दस दिन में कैसे हुआ भाव में इजाफा

सब्जी पहले अब

टमाटर 40- 80

करेला 40 -60

गिलकी 30 -40

भिंडी 30- 40

गोबी 45 -60

लोकी 30 -40
धनिया 150 -200

बैंगन 20 -40

चवली 40 -60

(नोट : सब्जी के खेरीज भाव)

Hindi News/ Sehore / Vegetable Price Hike: सेब के भाव बिक रहे टमाटर, प्याज के रेट सुनकर लोगों ने बोला…इतना महंगा…

ट्रेंडिंग वीडियो