Lockdown के बीच दूल्हा-दुल्हन ने इस तरह लिए सात फेरे, हर तरफ हो रही चर्चा

Highlights:

-लॉकडाउन में इस शादी के लिए दूल्हा पक्ष ने प्रशासन से अनुमति ली थी

-बारात में मात्र पांच लोगों के जाने की अनुमति मिली थी

-रीति रिवाज के साथ दोनों की शादी संपन्न हुई

By: Rahul Chauhan

Updated: 18 Apr 2020, 12:52 PM IST

शामली। कोरोना वायरस के चलते जहां दुनियभर में कोहराम मचा हुआ है तो वहीं जनपद में मुंह पर मास्क, हाथों पर सैनिटाइजर और सोशल डिस्टेंस का पालन कर दूले-दुल्हन ने सात फेरे लिए। बारात में भी सिर्फ तीन लोग शामिल हुए। लॉकडाउन में हुई यह शादी लोगों के बीच चर्चा का विषय बनी रही।

यह भी पढ़ें : सड़क पर बनाई गई ऐसी पेंटिंग, देखकर आप भी करेंगे तारीफ

दरअसल, शामली के गांव ताना निवासी सूरज की शादी शामली के मोहल्ला दयानंद नगर निवासी स्वाति के साथ हुई। लॉकडाउन में इस शादी के लिए दूल्हा पक्ष ने प्रशासन से अनुमति ली थी। बरात में मात्र पांच लोगों के जाने की अनुमति मिली थी, लेकिन बरात लेकर सिर्फ दूल्हा, उनके पिता रामबीर और कार ड्राइवर पहुंचे। रीति रिवाज के साथ दोनों की शादी संपन्न हुई। शादी के दौरान दूल्हा - दुल्हन ने सोशल डिस्टेंस का पालन किया। साथ ही मुंह पर मास्क और हाथों में सैनिटाइजर का इस्तेेमाल किया। दुल्हन पक्ष से भी परिवार के जरूरी लोग ही शामिल हुए और उन्होंने भी मुंह पर मास्क लगाया।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के दौरान भीषण हादसे में UP Police के हेड कांस्टेबल की दर्दनाक मौत, सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे अधिकारी

शादी संपन्न कराने वाले श्यामलाल पंडित का कहना है कि शादी में लॉकडाउन के नियमों का पालन किया गया है। दूल्हा सूरज ने बताया कि प्रशासन ने पांच लोगों की परमिशन दी थी, लेकिन वे तीन लोग ही गए थे। फेरे लेने के समय सोशल डिस्टेंस का पालन किया गया। दुल्हन स्वाति का कहना है कि उन्होंने अपनी शादी में लॉकडाउन का पालन किया है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned