राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री काे ज्ञापन भेजकर पानीपत लाठीचार्च की निंदा, आंदाेलन की चेतावनी

पानीपत की घटना पर यूपी में भी उबाल है। शामली में संवैधानिक आरक्षण संघर्ष मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने घटना का विराेध करते हुए राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री काे ज्ञापन भेजा है।

By: shivmani tyagi

Updated: 10 Aug 2020, 07:02 AM IST

शामली ( shami news) हरियाणा के पानीपत ( panipat )जिले के बिझौल गांव के तीन बच्चों की गिरफ्तारी को लेकर शांतिपूर्वक धरना प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस लाठीचार्ज की शामली में भी निंदा की गई है। इस घटना के विरोध में संवैधानिक आरक्षण संघर्ष मोर्चा के कार्यकर्ता कलक्ट्रेट पहुंचे। राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ( PM Narendra Modi ) के नाम एक ज्ञापन एसडीएम को दिया और बेकसूर लोगों को रिहा किए जाने व दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की।

यह भी पढ़ें: यूपी: सपा नेताओं ने हाथों में जंजीर बाँधकर किया व्यवस्था का विरोध

संवैधानिक आरक्षण संघर्ष मोर्चा के जिलाध्यक्ष धर्मवीर कश्यप के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने कलक्ट्रेट पहुंचकर ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि गत 30 जुलाई को हरियाणा के पानीपत जिले के बिझौल गांव में तीन बच्चों की हत्या के मामले में जिला मुख्यालय मिनी सचिवालय के पास शांति पूर्वक धरना प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया। लाठीचार्ज में मृतक बच्चों की मां परिजनों समेत पचास लोग घायल हो गए। इसके बाद 39 लोगों को नामजद करते हुए 500 लोगों पर हत्या के प्रयास व अन्य मामलों में केस दर्ज किया गया। इन्हाेंने कहा कि, पिछड़ा समाज पर अत्याचार रोका जाए। बेकसूर लोगों को जल्द रिहा किया जाए और इस मामले में दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाएं।

यह भी पढ़ें: मुजफ्फरनगर में धर्म गुरु की पिटाई से लोगों में आक्रोश, पुलिस के खिलाफ पंचायत

इतना ही नहीं चेतावनी भी दी कि यदि न्याय नहीं मिला तो संवैधानिक आरक्षण संघर्ष मोर्चा पूूरे देश में सरकार के खिलाफ आंदोलन चलाएगा। चेतावनी देने वालों में राहुल कश्यप, नरेंद्र कश्यप, जितेंद्र कश्यप, सोनू कश्यप, राजपाल, रनपाल, सतपाल कश्यप, प्रदीप कश्यप, अंकित कश्यप, रामगोपाल कश्यप आदि शामिल हैं

PM Narendra Modi
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned