script 31 मार्च से ये जरूरी सुविधा हो जाएगी बंद, 75 हजार उपभोक्ता होंगे प्रभावित | BSNL Copper Cable Landline Phone Services Completely Stopped In Rajasthan From 31st March | Patrika News

31 मार्च से ये जरूरी सुविधा हो जाएगी बंद, 75 हजार उपभोक्ता होंगे प्रभावित

locationसीकरPublished: Jan 31, 2024 11:00:12 am

Submitted by:

Akshita Deora

प्रदेश में कॉपर केबल लैंडलाइन फोन की सेवाएं अब पूरी तरह बंद होने वाली है। 31 मार्च तक प्रदेशभर में लैंडलाइन फोन की घंटी बंद हो जाएगी। केवल उन्हीं उपभोक्ताओं के घर ये सेवा जारी रहेगी, जो कनेक्शन को ऑप्टीकल सेवा में कन्वर्ट कराएंगे।

31_march.jpg

प्रदेश में कॉपर केबल लैंडलाइन फोन की सेवाएं अब पूरी तरह बंद होने वाली है। 31 मार्च तक प्रदेशभर में लैंडलाइन फोन की घंटी बंद हो जाएगी। केवल उन्हीं उपभोक्ताओं के घर ये सेवा जारी रहेगी, जो कनेक्शन को ऑप्टीकल सेवा में कन्वर्ट कराएंगे। इसके लिए बीएसएनएल ने उपभोक्ताओं के घर पहुंचकर कन्वर्जन का काम शुरू कर दिया है। गौरतलब है कि प्रदेश में वर्तमान में बीएसएनएल कॉपर केबल लैंडलाइन के करीब 75 हजार कनेक्शन हैं।

100 से 150 रुपए का बढ़ेगा खर्च
वर्तमान लैंडलाइन उपभोक्ताओं को ऑप्टीकल सेवा में रुपांतरित करना बीएसएनएल के लिए एक चुनौती भी है। क्योंकि 150 से 200 रुपए में मिल रही कॉपर लैंडलाइन की सेवा के मुकाबले ऑप्टीकल सेवा 100 से 150 रुपए महंगी होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में उपभोक्ता को 249 व शहरी क्षेत्र में कम से कम 299 रुपए खर्च करने होंगे। ऐसे में जो उपभोक्ता सिर्फ इन कमिंग सुविधा के लिए ही कॉपर लैंडलाइन का उपभोग कर रहे थे, उन्हें नई सेवा के लिए तैयार करना मुश्किल होगा। हालांकि बीएसएनएल की टीम घर- घर जाकर उपभोक्ताओं को नई सेवा के फायदे बताते हुए मौके पर ही उनका आवेदन फॉर्म भरने में जुटी है।

यह भी पढ़ें

तेज रफ्तार कार ने पुलिस वाहन को मारी जोरदार टक्कर, 2 पुलिसकर्मी समेत 7 घायल



मुफ्त में होगा कन्वर्जन, मोडेम मिलेगा फ्री
दूरसंचार जिला प्रबंधक अजय सिंह चौहान ने बताया की डिजिटल इंडिया मिशन में बेहतर वॉइस गुणवत्ता के साथ हाई स्पीड इंटरनेट सेवा देने के लिए पुराने कॉपर आधारित लैंड लाइन को फाइबर सेवा में बदला जा रहा है। 31 मार्च तक लैंडलाइन नंबर फाइबर सेवा में बदलवाने पर उपभोक्ता का कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लगेगा। यहां तक की वाईफाई मॉडेम भी मुफ्त दिया जाएगा। सेवा बदलने पर उपभोक्ता के फोन नम्बर भी नहीं बदलेंगे। टैरिफ प्लान के आधार पर वॉइस कॉल सेवा मुफ्त मिलने के साथ उपभोक्ताओं को इंटरनेट की भी हाई स्पीड मिलेगी।

गांवों में पहले से बंद
बीएसएनएल की कॉपर लैंडलाइन सेवाएं ग्रामीण क्षेत्रों में पहले ही बंद की जा चुकी है। अब केवल नगरीय इलाकों में ही ये कनेक्शन बचे हैं। जो 31 मार्च तक ऑप्टीकल सेवा में नहीं बदले जाने पर बंद हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें

VIDEO: पूर्व सांसद मानवेंद्र सिंह की हालत नाजुक, पत्नी की मौत के बाद टूटा दुखों का पहाड़

कभी थे 30 हजार, अब 2500 कनेक्शन
मोबाइल क्रांति से पहले लैंडलाइन ही संपर्क की लाइफ लाइन थे। तब सीकर में लैंडलाइन फोन के करीब 30 हजार उपभोक्ता थे। मोबाइल के चलन के बाद घटते हुए कनेक्शन वर्तमान में करीब 2500 तक पहुंच गए हैं। इनमें 1700 उपभोक्ता सीकर शहर में है। बाकी नगर पालिका क्षेत्रों के हैं।

249 से 1799 तक के टेरिफ
बीएसएनएल की नई सेवा के लिए उपभोक्ता को टेरिफ प्लान चुनना होगा। ग्रामीण क्षेत्र में 249 व शहरी क्षेत्र में 299 रुपए महीने से प्लान की शुरुआत होगी। 1799 रुपए तक के प्लान में ओटीटी की सुविधा 666 रुपए महीने से शुरू होगी।

फायदा होगा..
कॉपर केबल लैंडलाइन सेवा ऑप्टीकल में बदलने पर वॉइस कॉलिंग व मोडेम मुफ्त मिलने के साथ उपभोक्ता को हाई स्पीड इंटरनेट सुविधा मिलेगी। सुविधाओं के लिहाज से नई सेवा का खर्च भी ज्यादा नहीं है। इससे उपभोक्ताओं को फायदा होगा।
एचआर डूडी, एजीएम, बीएसएनएल, सीकर

ट्रेंडिंग वीडियो