शादी के 13 साल बाद पति ने भतीजी के सामने ही कुचल दिया पत्नी का सिर, दर्दनाक मौत

Naveen Parmuwal | Publish: Jun, 22 2019 11:03:01 AM (IST) | Updated: Jun, 22 2019 12:13:57 PM (IST) Sikar, Sikar, Rajasthan, India

Husband Killed Wife : खाड़ी देश में कमाने की कहकर उसने लम्बे समय से पीहर में रह रही पत्नी को बुलाया। बाद में रात को पत्थर मारकर पत्नी का सिर कुचल कर हत्या कर दी।

लक्ष्मणगढ़.
Husband killed wife : खाड़ी देश में कमाने की कहकर उसने लम्बे समय से पीहर में रह रही पत्नी को बुलाया। बाद में रात को पत्थर मारकर पत्नी का सिर कुचल कर हत्या ( Murdered of Wife ) कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद वह घर से भाग गया। लेकिन पास में सो रही छोटे भाई की बच्ची ने परिवार के लोगों को घटना की जानकारी दे दी। पुलिस ने बाद में आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया। वारदात गुरुवार देर रात कस्बे के वार्ड 13 में हुई। थानाधिकारी राममनोहर ने बताया कि यहां के निवासी जयप्रकाश नायक की उसकी पत्नी अंजू देवी से लम्बे समय से अनबन थी।

इसके चलते अंजू ज्यादातर अपने पीहर डूंडलोद ही रहती थी। जयप्रकाश ने रात करीब एक बजे अंजू के सिर में सिमेंट से बने ताबुक पत्थर से वार कर दिया। बाद में उसे सरकारी अस्पताल लाया गया, जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया गया। वारदात के बाद आरोपी जयप्रकाश भाग गया। पांच घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी से पूछताछ जारी है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। अंजू की बड़ी बहन आशा की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

 

Husband Killed Wife : खाड़ी देश में कमाने की कहकर उसने लम्बे समय से पीहर में रह रही पत्नी को बुलाया। बाद में रात को पत्थर मारकर पत्नी का सिर कुचल कर हत्या कर दी।

Read More :

शर्मनाक: नाबालिग ने दिया बच्चे को जन्म, पड़ोसी युवक ने कई बार किया बलात्कार

 

गुरुवार को ही पीहर से आई थी अंजू
अंजू की जयप्रकाश से शादी लगभग 13 वर्ष पहले हुई थी। जयप्रकाश आदतन शराबी है। ऐसे में पति-पत्नी के बीच लम्बे समय से मनमुटाव चल रहा है। आपसी झगड़े की वजह से अंजू ज्यादातर अपने पीहर डूंडलोद ही रह रही थी। जयप्रकाश ने घरवालों से कहा कि वह खाड़ी देश कमाने जा रहा है। इसके लिए उसने अपना पासपोर्ट भी एजेंट के भेज दिया है। जयप्रकाश पहले भी खाड़ी देश जा चुका है। लेकिन उसने शर्त रखी की पत्नी अंजू के घर आने पर ही वह कमाने के लिए खाड़ी देश जाएगा। ऐसे में परिवार के लोग समझाइश कर गुरूवार को ही अंजू को घर लाए थे।


एक ही परिवार में ब्याही है दोनों बहन
अंजू व उसकी बड़ी बहन आशा दोनो की ही शादी लक्ष्मणगढ़ में इसी परिवार में हुई है। अंजू की शादी जयप्रकाश से वहीं आशा की शादी हुकमचंद से हुई थी। हुकमचंद भी विदेश में रहकर मजदूरी करता है। आशा की बेटी रौनक रात को अंंजू के पास ही सो रही थी। उसी ने परिवार के लोगों को वारदात की जानकारी दी। ( Murdered in Sikar )

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned