आजम खान की बहू ने जेल में की परिवार से मुलाकात, निकलते ही दिया बड़ा बयान

समाजवादी पार्टी सांसद आजम खां, उनकी पत्नी तंजीन व बेटा अबदुल्ला के सीतापुर जेल में ट्रांसफर किए जाने का मामला गर्माता जा रहा है।

By: Abhishek Gupta

Published: 28 Feb 2020, 10:40 PM IST

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

सीतापुर. समाजवादी पार्टी सांसद आजम खान, उनकी पत्नी तंजीन व बेटे अबदुल्ला के सीतापुर जेल में ट्रांसफर किए जाने का मामला गर्माता जा रहा है। समाजवादी पार्टी इसको लेकर आक्रोशित है। उनका आरोप है कि भाजपा सरकार मनमानी कर रही है। अदालत को या किसी को बिना सूचित किए ही आजम खान के परिवार को ट्रांसफर किया गया है। इस पर आजम खां की बहू ने भी बयान दिया है, जो शुक्रवार को सीतापुर पहुंची और परिवार से मिल बेहद दुखी दिखीं। उन्होंने जेल प्रशासन पर बीमार ससुर व सांस को दवा मुहैया न कराने व लापरवाही बरतने का आरोप भी लगाया।

ये भी पढ़ें- विधानसभा में दिखा गजब नजारा, मुंह पर मास्क बांधकर आए विधायक, सीएम योगी ने कहा यह

आजम खान से मिलने उनकी बहू सिदरा खान और बेटा अदिब आजम सीतापुर जेल पहुंचे। मुलाकात के बाद जेल से बार आई सिदरा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि परिवार की हालत देख बेहद दुखी हूं। जेल में मच्छर है, जिससे कारण वालिद (आजम खान) सो नहीं पा रहे। तो वहीं सास को रीढ़ की हड्डी में दर्द है। इसके उपरांत सिदरा ने जेल प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि वालिद व वालिदा की तबीयत खराब होने के बावजूद भी जेल प्रशासन उन्हें दवा मुहैया नहीं करा रहा है। सिदरा ने दोनों की उम्र का हवाला देते हुए उन्हें दवा देने व इलाज कराए जाने की मांग की। जेल ट्रांसफर के सवाल पर उन्होंने कहा कि हमें या किसी को भी इसकी जानकारी नहीं दी गई और रातो रात यहां ले आए। सिदरा ने आगे कहा कि उन्हें अल्लाह पर पूरा भरोसा है। कोर्ट का फैसला हमारे हक में आएगा क्योंकि जो एफआईआर दर्ज हुई वो बिल्कुल झूठी है।

ये भी पढ़ें- शनिवार को बंद रहेंगे सभी स्कूल, जिलाधिकारी ने अवकाश किया घोषित

इससे पूर्व सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने भाजपा सरकार पर आजम खां व उनके परिवार को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि बिना अदालत को सूचित किये उन्हें रामपुर से सीतापुर जेल शिफ्ट किया गया। यह पूरी तरह से बदले की भावना की कार्रवाई है जो लोकतंत्र के लिए शुभ नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार अदालत के फैसलों को नहीं मानती, संविधान पर भरोसा नहीं करती।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned