Asian wrestling championship: फाइनल में पहुंचे बजरंग पूनिया और रवि दहिया

बजरंग पूनिया और रवि दहिया ओलंपिक में भी अपनी जगह बना चुके हैं। वहीं बात करें एशियाई चैंपियनशिप की तो शनिवार को दोनों पहलवानों ने प्रभावशाली प्रदर्शन करते हुए जीत हासिल की और फाइनल में पहुंच गए हैं।

 

By: Mahendra Yadav

Published: 17 Apr 2021, 04:54 PM IST

एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में भारत के बजरंग पूनिया और रवि दहिया फाइनल में प्रवेश कर गए हैं। बजरंग पूनिया और रवि दहिया ओलंपिक में भी अपनी जगह बना चुके हैं। वहीं बात करें एशियाई चैंपियनशिप की तो शनिवार को दोनों पहलवानों ने प्रभावशाली प्रदर्शन करते हुए जीत हासिल की और फाइनल में पहुंच गए हैं। वहीं 74 किग्रा कैटेगरी में नरसिंह पंचम यादव और 97 किग्रा कैटेगिरी में सत्यव्रत कादियान को सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा। अब वे कांस्य पदक के लिए मुकाबला करेंगे।

फाइनल में ताकुतो ओटोगुरो से होगा बजरंग का मुकबाला
बजरंग पूनिया ने शुरुआती मुकाबले में 65 किग्रा भार वर्ग में कोरिया के योंगसियोग जियोंग पर आसानी से जीत दर्ज कर ली। इसके बाद उनका मुकाबला मंगोलिया के बिलगुन सरमानदाख से हुआ। बजरंग ने मंगोलिया के इस पहलवान को भी चित कर दिया और फाइनल में प्रवेश किया। अब फाइनल में बजरंग पूनिया का सामना जापान के पहलवान ताकुतो ओटोगुरो से होगा। बता दें कि ताकुतो ओटोगुरो फिलहाल शानदार फार्म में चल रहे हैं।

यह भी पढ़ें— एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : कोरियाई पहलवान को हराकर दिव्या काकरान ने जीता स्वर्ण

ravi_dhaiya.png

रवि दहिया ने भी किया अच्छा प्रदर्शन
वहीं रवि दहिया ने एक वर्ष बाद वापसी करते हुए 57 किग्रा भार वर्ग में अच्छा प्रदर्शन किया। पहले दौर में रवि दहिया का मुकाबला उज्बेकिस्तान के नोदिरजोन सफरोव से हुआ। रवि ने नोदिरजोन सफरोव को 9-2 से हरा दिया। इसके बाद उनका सामना फिलिस्तीन के अली एम एम अबुयमैला से हुआ। रवि ने फिलिस्तीन के पहलवान को हराकर फाइनल में जगह बनाई। अब फाइनल में रवि का मुकाबला ईरान के अलीरेजा नोसरातोलाह सरलॉक से होगा।

यह भी पढ़ें— 3 माह के बेटे को लेकर काम पर लौटीं बबीता फोगाट, तस्वीर शेयर कर लिखा- जिम्मेदारियां और मजबूत बनाती हैं

विनेश और अंशु ने जीते गोल्ड मेडल
भारत की महिला पहलवानों ने भी एशियाई चैम्पियनशिप में दमदार प्रदर्शन किया। विनेश फोगाट और अंशु मलिक ने एशियाई चैम्पियनशिप के फाइनल में अपने-अपने मुकाबले जीत कर स्पर्ण पदक हासिल किए। विनेश ने 53 किग्रा वर्ग में बिना अंक गंवाए पहली बार एशियाई चैम्पियनशिप में गोल्ड मेडल हासिल किया। विनेश ने फाइनल में ताइपे की मेंग हसआन हसिह को 6-0 से हरा दिया। वहीं अंशु मलिक ने 57 किग्रा भार वर्ग में फाइनल में मंगोलिया की बत्सेत्सेग अल्टांसेटसेग को 3-0 से हराया। मंगोलियाई खिलाड़ी के पास अंशु के आक्रमण का कोई जवाब नहीं था।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned