पूर्व विधायक नागपाल ने दिया भाजपा से इस्तीफा

https://www.patrika.com/sri-ganganagar-news/

By: jainarayan purohit

Published: 15 Nov 2018, 03:39 PM IST

टिकट वितरण में अनियमितता का आरोप
सूरतगढ़.

भाजपा के टिकट वितरण के बाद पार्टी में बगावत थमने का नाम नहीं ले रही। पूर्व विधायक व पूर्व जिलाध्यक्ष अशोक नागपाल ने बगावत का बिगुल बजाते हुए पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देते हुए श्रीगंगानगर से चुनाव लडऩे की इच्छा जताई है।


पूर्व विधायक नागपाल ने यहां एक होटल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेस में कहा कि उन्होंने भाजपा के कार्यकर्ता के रूप में कार्य किया। नगर निकाय चुनाव में श्रीगंगानगर नगरपरिषद में भाजपा का सभापति बनाने के प्रयास जिलाध्यक्ष होने के नाते किए। लेकिन भाजपा का बोर्ड नहीं बन सका। इस प्रकरण में दोषियों को बचाने के चक्कर में उन्हें पार्टी से निकाल दिया। इसके बावजूद पार्टी से जुड़ा रहा। पार्टी में पुन: शामिल होने के बाद एक निष्ठावान कार्यकर्ता होने के नाते उन्होंने सूरतगढ़ विधानसभा से चुनाव लडऩे के लिए टिकट मांगी।

इसके अलावा उनके समाज की प्रियंका बैलान ने अनूपगढ़ विधानसभा से पार्टी से टिकट मांगी। दोनों विधाानसभा क्षेत्र में पार्टी ने अनदेखी की है। इससे हताश व निराश होकर उन्होंने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। त्याग पत्र भाजपा प्रदेशाध्यक्ष को प्रेषित कर दिया है।

उन्होंने कहा कि श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ जिले में भाजपा की ओर से टिकट वितरण सही ढंग से नहीं हुआ है। इसको लेकर कार्यकर्ताओं में रोष है। इसका खमियाजा पार्टी को भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि उनकी इच्छा श्रीगंगानगर से चुनाव लडऩे की है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अभी तक कांग्रेस के किसी भी पदाधिकारी ने उनसे सम्पर्क नहीं साधा है लेकिन सभी विकल्प खुले हैं।

फिलहाल श्रीगंगानगर जाकर आमजन से समर्थन मांगूगा। भाजपा के खिलाफ प्रचार भी करूंगा। इस मौके पर अरोडवंश कल्याण समिति उपाध्यक्ष चंदप्रकाश जनवेजा, चंद्रभान पूनिया, अशोक भट्ट, संयुक्त व्यापार संघ अध्यक्ष घनश्याम आहूजा, पिताम्बर दत शर्मा आदि मौजूद रहे।

jainarayan purohit
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned