शुगर मिल का गन्ना पिराई सत्र समाप्त,92 दिन चली मिल

—दस लाख 80 हजार क्विंटल गन्ना पिराई हुआ
-शुगर मिल में चीनी की रिकवरी भी पिछले साल से कम रही

By: Krishan chauhan

Published: 25 Mar 2020, 07:54 AM IST

शुगर मिल का गन्ना पिराई सत्र समाप्त,92 दिन चली मिल

—दस लाख 80 हजार क्विंटल गन्ना पिराई हुआ


-शुगर मिल में चीनी की रिकवरी भी पिछले साल से कम रही

श्रीगंगानगर.श्रीकरणपुर क्षेत्र के कमीनपुरा स्थित नई शुगर मिल में गन्ना पिराई सीजन मंगलवार रात्रि बारह बजे समाप्त हो गय। इस सीजन में शुगर मिल को दस लाख 80 हजार क्विंटल गन्ना पिराई के लिए मिला है। जबकि पिछले सात 11 लाख 61 हजार क्विंटल गन्ना पिराई के लिए मिल को मिला था। वहीं, मंगलवार दोपहर बारह बजे शुगर मिल संचालन कर रही ठेका कंपनी के श्रमिकों ने मजदूरी का भुगतान नहीं करने पर एक बार विवाद खड़ा कर दिया। इस कारण एक घंटा से अधिक समय तक शुगर मिल में गन्ना पिराई का कार्य बाधित हो गया। इसके बाद मिल प्रबंधन ने खुद के कार्मिकों को लगाकर शुगर मिल में गन्ना पिराई शुरू करवाई। इस सीजन में शुगर मिल 92 दिन ही चल पाई है। जबकि पिछले साल शुगर में 109 दिन गन्ना पिराई सीजन चला था। इस सीजन में चीनी की रिकवरी भी कम रही। शुरू से चीनी की रिकवरी 8.25 प्रतिशत तक ही आ रही थी।

गौरतलब है कि 21 दिसंबर 2019 को शुगर मिल में गन्ना पिराई सत्र शुरू हुआ था और शुरुआत में बार-बार ट्ररबाइन आदि में तकनीकी खराबी आती रही। इस कारण शुगर में गन्ना पिराई रफ्तार नहीं पकड़ पाई। कमीनपुरा क्षेत्र के चक 23 एफ श्रीकरणपुर में नई शुगर मिल 16 जनवरी 2015 को शुरू हुई थी। पहले शुगर मिल में गन्ना पिराई श्रीगंगानगर में पुरानी शुगर मिल में ही होता था।
फाज्लिका चला गया गन्ना-श्रीकरणपुर,केसरीसिंहपुर,पदमपुर,गजसिंहपुर सहित श्रीगंगानगर जिले में इस सीजन में दस हजार बीघा में गन्ना की फसल थी। इस बार गन्ने का उत्पादन 18 लाख क्विंटल हुआ।गन्ने की फसल पिछले साल की तुलना में इस वर्ष अच्छी थी। जिले में 18 लाख क्विंटल गन्ना उत्पादन होने पर शुगर मिल को पिराई के लिए 12 लाख क्विंटल गन्ना मिलने की उम्मीद थी। जबकि गन्ना पंजाब की फाज्लिका की शुगर मिल में चला गया और कुछ गन्ना रस आदि में काम ले लिया गया। इस कारण पिछले साल की तुलना में एक लाख क्विंटल गन्ना पिराई के लिए कम मिला है।

गन्ना पिराई सत्र समाप्त
इस सीजन में शुगर मिल में गन्ना पिराई सत्र 92 दिन चला है और दस लाख 80 हजार क्विंटल गन्ना पिराई के लिए मिला है। मंगलवार देर रात्रि तक गन्ना पिराई कर मिल को बंद कर दिया गया है।
रजनीश कुमार,सीडीपीओ, राजस्थान स्टेट गंगानगर शुगर मिल लिमिटेड,श्रीगंगानगर।

Krishan chauhan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned