अध्यक्ष के लिखित आश्वासन पर ग्रामीणों ने उठाया धरना

https://www.patrika.com/sri-ganganagar-news/

By: jainarayan purohit

Published: 18 Dec 2018, 07:57 PM IST

- बांडा गांव की ग्राम सेवा सहकारी समिति पर यूरिया नही पहुंचने पर ग्रामीणों में रोष

अनूपगढ़.यूरिया की किल्लत से किसानों परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में मंगलवार को किसानों ने यूरिया की आपूर्ति की मांग करते हुए धरना लगा दिया।

बाण्डा गांव के किसानों ने उपखंड़ अधिकारी मनमोहन मीणा को ज्ञापन देकर ग्राम सेवा सहकारी समिति बांडा में यूरिया खाद पहुंचवाने की मांग की थी लेकिन मंगलवार को समिति में यूरिया नही पहुंचने पर पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार समिति के बाहर धरना लगा दिया।

ग्रामीणों ने जताते हुए कहा कि वर्तमान में खेतों में यूरिया की महती आवश्यकता है, लेकिन बांड़ा की ग्राम सेवा सहकारी समिति पर यूरिया उपलब्ध नही करवाई गई है।जबकि पास की ग्राम सेवा सहकारी समिति बांडा कॉलोनी, नौ एलएसएम तथा सलेमपुरा सहित सभी ग्राम सेवा सहकारी समितियों में यूरिया खाद पहुंच गई है।

ग्रामीणों ने कहा कि गत दिवस इस सम्बंध में प्रशासन को सूचित करने के बावजूद भी कोई कार्रवाई नही हुई हैै। ग्रामीणों ने एक बार फिर ग्राम सेवा सहकारी समिति के सहव्यवस्थापक के माध्यम से उपखंड़ अधिकारी के नाम ज्ञापन देकर यूरिया उपलब्ध करवाने की मांग की । धरने की सूचना पर ग्राम सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष कुन्नन राम मौके पर पहुंचे तथा ग्रामीणों से समझाइश की।

उन्होने ग्रामीणों को बताया कि सलेमपुरा तक ग्राम सेवा सहकारी समितियों का रैक श्रीगंगानगर से लगता है,जबकि सलेमपुरा से आगे की ग्राम सेवा सहकारी समितियों का रैक सूरतगढ़ से लगता है और बांड़ा के लिए यूरिया का रैक सूरतगढ़ से अभी लगा नही है। अध्यक्ष कुन्नन राम ने मौके पर ही इफको कम्पनी केअधिकारियों से दूरभाष पर बात की।

जिसके बाद सोमवार को गांव बांड़ा की सहकारी समिति में खाद आने का लिखित आश्वासन अध्यक्ष ने ग्रामीणों को दिया।अध्यक्ष के लिखित आश्वासन पर ग्रामीणों से धरना उठा लिया। धरने पर आमीन खां,राम स्वरुप ङ्क्षसगाठिया, नंदराम, किशोर कुमार, बृजलाल, रमेश डूडी, कुलदीप कुमार सहित अन्य लोग बैठे।

jainarayan purohit
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned