महिलाओं ने रूप चतुर्दशी पर किया विशेष श्रृंगार

Rajender pal nikka | Publish: Nov, 06 2018 10:33:48 PM (IST) | Updated: Nov, 06 2018 10:33:49 PM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

चहुं ओर पर्वाधिराज का उल्लास, आज होगा लक्ष्मी पूजन

श्रीगंगानगर। पर्वाधिराज दिवाली का चहुं ओर उल्लास है। सोमवार को धनतेरस से शुरू हुआ विशिष्ट अवसरों का सिलसिला 9 नवम्बर को भाई दूज तक चलेगा। बुधवार का दिन तो सबके लिए खास रहेगा। मुहूर्त के हिसाब से लक्ष्मी पूजन होगा और आकर्षक सजावट एवं रोशनी के बीच छोड़े जाएंगे पटाखे।

दिवाली के चलते मुख्य बाजारों, गली-मोहल्लों तथा कॉलोनियों की दुकानों को सजाया गया है। कुछ पर तो ऐसी शानदार रोशनी की गई है कि नजर हटाने का मन नहीं करता। कइयों के बाहर बड़े घड़े, शाही दरवाजे आदि रखे गए हैं। अनेक शोरूम एवं दुकानों पर दुपट्टों से भी मनमोहक सजावट की गई है।

कृषि जिन्सों के अलावा कुछ अन्य कारोबारियों ने पूजन के लिए नए बही-खाते खरीदे हैं। कई कॉलोनियों के मुख्य द्वारों पर बिजली की लडिय़ां लगाई गई है। घरों पर भी रोशनी की गई है। घरों में धन-धान्य की देवी लक्ष्मी के स्वागत के लिए रंगोली भी बनाई गई है।

किया श्रृंगार, खुशी अपार

रूप चतुर्दशी पर मंगलवार को अनेक महिलाओं एवं युवतियों ने विशेष श्रृंगार किया। उनकी खुशी देखते ही बनती थी। शहर के ब्यूटी पार्लरों में सजने के लिए आने वालों की संख्या अच्छी-खासी रही। कुछ ने तो समय और असुविधा से बचने के लिए पहले बुकिंग करवाई।

मान्यताओं के चलते अनेक जनों ने सुबह उबटन लगाकर स्नान किया। पूजन के लिए थाल सजाकर उसमें चौमुख दीपक जलाए। सौलह छोटे दीपक और जलाए तथा रोली, खीर, गुड़, अबीर, गुलाल, फूल आदि से ईष्ट देव की पूजा की। संध्या के समय दीपदान किया गया।

गुरुवार को गोवर्धन पूजा की भी घरों एवं मन्दिरों में जोरदार तैयारियां चल रही है। मन्दिरों में प्रसाद के लिए संबंधित लोग जुटे हुए हैं। शुक्रवार को भाईदूज के विशेष दिन का भी सभी में उत्साह है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned