MOLESTATION : रात्रि को अंधेर में मनचले ने की छात्रा से अश्लील हरकत

- वीएनएसजीयू गल्र्स हॉस्टल की छात्राओं की सुरक्षा पर सवाल
- छात्रा ने मचाया शोर, उमरा पुलिस पहुंची विश्वविद्यालय
- छात्राओं का आरोप गल्र्स हॉस्टल में नहीं है सुरक्षाकर्मी

सूरत.
वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय (वीएनएसजीयू) के गल्र्स हॉस्टेल की छात्राओं की सुरक्षा पर सवाल खड़ा है। रात्रि को हॉस्टल की छात्रा को अज्ञात व्यक्ति ने पकड़ छेड़छाड़ की। छात्राओं का आरोप है कि कोई सुरक्षाकर्मी तैनात नहीं है। इसे लेकर सीनेट सदस्य ने सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है।

जानकारी के मुताबिक, वीएनएसजीयू गल्र्स होस्टल के बाहर सर्विस रोड़ पर छात्राएं टहल रही थी। तभी एक व्यक्ति ने अंधेर का लाभ उठाते हुए छात्रा को पकड़ लिया। छात्राओं का कहना है कि अज्ञात व्यक्ति ने छात्रा के गले पर चाकू रखकर छेड़छाड़ करना शुरू कर दिया और विरोध करने पर उसे जान से मारने की धमकी दी। डरी छात्रा ने शोर मचाया तो व्यक्ति अंधेर में कहीं भाग गया। इसकी सूचना पर उमरा थाना पुलिस गल्र्स होस्टल पर पहुंची। देर तक व्यक्ति की तलाश की।

- कई दिनों से लगाता था चक्कर
छात्राओं का कहना है कि अज्ञात व्यक्ति कई दिनों से हॉस्टल के बाहर चक्कर लगा रहा था। सुरक्षा नहीं होने के कारण रात्रि के समय सर्विस रोड और होस्टल के आस-पास टहलना मुश्किल हो जाता है। अंधेरे से बाहर आकर कोई भी परेशान करता रहता है। बुधवार रात अज्ञात व्यक्ति ने अंघेरे का लाभ उठाकर गलत हरक्त की।

- नहीं है सुरक्षा कर्मी
छात्राओं का आरोप है कि हॅास्टल में सुरक्षाकर्मी नहीं है। हॉस्टल के आसपास और सर्विस रोड पर लोग देर रात तक बैठे रहते हैं। अंधेरे में कोई भी घटना हो सकती है।

- नहीं हुआ मामला दर्ज
छात्राओं का आरोप है कि गल्र्स हॉस्टल की वॉर्डन ने इस घटना में मामला दर्ज नहीं करवाया है। जबकि छात्राएं चाहती है।

- सुरक्षा की मांग
सीनेट सदस्य मनीष कापडिय़ा ने विश्वविद्यालय में छात्राओं की सुरक्षा पर प्रश्न खड़ा किया है। मनीष ने विश्वविद्यालय को ज्ञापन सौंपकर तुरंत कार्रवाई और हॉस्टल के साथ विश्वविद्यालय परिसर में भी अधिक सुरक्षाकर्मी नियुक्ति करने की मांग की है।

MOLESTATION : रात्रि को अंधेर में मनचले ने की छात्रा से अश्लील हरकत

हॉस्टल के खाने में निकलते हैं कीड़े!
वीएनएसजीयू के गल्र्स हॉस्टल के खाने में कीड़े निकलने की शिकायत छात्राओं ने कई बार की है। लेकिन आज तक किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं हुई है। कीड़े निकलने से डरी और खाने की गुणवत्ता अच्छी नहीं होने के चलते कई छात्राएं बाहर खाना खाती है।

नहीं की शिकायत
पुलिस को इस मामले में सूचना की थी, फिलहाल कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई गई है। छात्राओं की सुरक्षा के लिए कदम उठाए जा रहे है। खाने का ठेका बदलने की भी प्रक्रिया शुरू की गई है।
- यशोधरा भट्ट, गल्र्स हॉस्टल वॉर्डन, वीएनएसजीयू

Show More
Divyesh Kumar Sondarva
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned