हत्या के बाद यहां हो रहा है बवाल, परिजन नहीं उठा रहे शव, पुलिस-प्रशासन से कर रहे हैं ये मांगें

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: rajesh walia

Published: 23 Jul 2018, 05:39 AM IST

उदयपुर .

रामपुरा चौराहा क्षेत्र में एकलिंगनाथ गार्डन के सामने शनिवार शाम को गजेन्द्र छापरवाल की हत्या के दूसरे दिन रविवार को आक्रोशित परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर विरोध प्रदर्शन करते हुए शव नहीं उठाया। दिनभर चली जद्दोजहद के बाद परिजन आरोपियों की गिरफ्तारी व मृतक के पिता को जेल से रिहा करने की मांग अड़ गए। उन्होंने पोस्टमार्टम, पंचनामा व अन्य आवश्यक कार्रवाई पर विरोध स्वरूप साइन करने से भी मना कर दिया। जिसके बाद यह मामला और उलझता हुआ नजर आ रहा है। पुलिस के आला अधिकारी मामले पर निगाह बनाए हुए हैं।

गोली मारकर हत्या कर दी
पुलिस ने परिजनों को आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तारी करने का आश्वासन दिया। इधर,अधिवक्ता ने मृतक के पिता की पैरॉल के लिए न्यायालय में आवेदन लगाया गया। जानकारी के मुताबिक गांधीनगर मल्लातलाई निवासी सुनील लोट ने अपने भाई विनोद लोट की हत्या का बदला लेने के लिए साथियों के साथ मिलकर शनिवार शाम को रामपुरा चौराहे पर गजेन्द्र छापरवाल की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

अत्यधिक रक्तस्राव के चलते उसकी मौत हो गई
सुबह चिकित्सकों ने मृतक का पोस्टमार्टम किया जिसमें उसके शरीर में धंसी दो गोलियां निकाली गई। चिकित्सकों ने बताया कि मृतक के दोनों हाथ, सीने व कूल्हे पर कुल चार गोलियां लगी जिससे अत्यधिक रक्तस्राव के चलते उसकी मौत हो गई। गोली लगने से मृतक के फेफड़े भी क्षतिग्रस्त हो गए थे।

read: उदयपुर में फायरिंग की घटनाओं के बाद अब मर्डर से फैली दहशत, गैंगवार में युवक की गोली मारकर हत्या

जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया
पोस्टमार्टम के बावजूद परिजनों के शव नहीं उठाने पर पुलिस ने उसे मुर्दाघर में रखवाया है। इधर, परिजनों ने दिनभर प्रदर्शन के साथ ही जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में उन्होंने एफआईआर में नामजद आरोपियों को गिरफ्तार करने व जेल में बंद मृतक गजेन्द्र के पिता प्रकाश छापरवाल की रिहाई करवाने व उनकी उपस्थिति में ही दाहसंस्कार की मांग की।

Show More
rajesh walia Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned