जानिए मौलाना मोहम्मद कलीम सिद्दीक़ी को जिन पर है हज़ारों के धर्मांतरण का आरोप

Maulana Muhammad Kaleem Siddiqi: देश के प्रसिद्ध इस्लामिक विद्वान मौलाना कलीम सिद्दीक़ी जो विविधता में एकता और गंगा जमुनी तहजीब की दुहाई देते हुए अक्सर दिखाई देते हैं, को मेरठ में यूपी एटीएस टीम द्वारा अवैध धर्मान्तरण के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है|

By: Mahima Soni

Published: 23 Sep 2021, 11:10 PM IST

लखनऊ.Maulana Muhammad Kalam Siddiqi: मौलाना कलीम सिद्दीक़ी को यूपी एटीएस(UP ATS)टीम ने मेरठ में अपने ट्रस्ट और एनजीओ के जरिए धर्मांतरण का रैकेट चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया है| मौलाना सिद्दीक़ी देश के प्रसिद्ध इस्लामिक विद्वानों और विविधता में एकता और गंगा जमुनी तहजीब की दुहाई देने वालों में से माना जाता रहा है| मौलाना सिद्दीक़ी ने बॉलीवुड अभिनेत्री सना खान का निकाह भी पढ़वाया था और इसी महीने में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के की तरफ से आयोजित राष्ट्र प्रथम और राष्ट्र सर्वोपरि कार्यक्रम में भी शामिल हुए थे। इनके ट्रस्ट को विदेशों से हवाला के जरिये फंडिंग और पाकिस्तान से तकनीकी सपोर्ट मिलने के आरोप लगे हैं|

कौन हैं मौलाना मोहम्मद कलीम सिद्दीक़ी(Who is Maulana Mohammad Kaleem Siddiqi)

मौलाना कलीम सिद्दीकी का इस्लामिक विद्वानों और पश्चिमी यूपी में एक बड़ा नाम हैं। मौलाना मुजफ्फर नगर के फुलत के रहने वाले हैं। फुलत के अलावा कई जगहों पर उनके नाम पर मदरसे चलते हैं। मौलाना की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्हें देश के साथ ही विदेशों से भी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए न्योते आते हैं। मौलान बॉलीवुड अभिनेत्री सना खान(Sana Khan)का निकाह भी पढ़वा चुके हैं और साथ ही 7 सितम्बर को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के की तरफ से आयोजित राष्ट्र प्रथम और राष्ट्र सर्वोपरि कार्यक्रम में भी शामिल हुए थे।

क्यों हुए मौलाना मोहम्मद कलीम सिद्दीक़ी गिरफ्तार(Why Maulana Mohammad Kaleem Siddiqi got arrested)
मौलाना मोहम्मद कलीम सिद्दीक़ी पर आरोप है की वह अवैध तरीके से पैसे व नौकरी का लालच देकर देश का सबसे बड़ा रैकेट चलाकर लोगों का धर्मान्तरण करवाते थे| क्युकी मौलाना का मानना है की हर हिन्दू को मुस्लमान बन जाना चाहिए जिसके लिए मौलाना ब्राह्मण लड़कियों को खास निशाने पर रखता था|

मौलाना कलीम सिद्दीकी पर क्या आरोप है(What is the charge against Maulana Kaleem Siddiqui)
मौलाना कलीम सिद्दीकी पर यूपी एटीएस (UP ATS) के मुताबिक आरोप है की मौलाना धर्मांतरण के मामले में गिरफ्तार किये जा चुके दो मौलानाओं मोहम्मद उमर गौतम(Umar Gautam) और मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी(Mufti Kaji Jahangir Kasmi) मामले की जाँच के दौरान इनका नाम सामने आया था और तभी से यह यूपी एटीएस के राडार पर थे| इनपर आरोप है की यह गैर मुस्लिमों को गुमराह करने, डर दिखा कर धर्मान्तरण कराने और गलत कामों के लिए तैयार करते हैं। जिसके लिए इन्हे विदेशों से भारी मात्रा में फंडिंग और पाकिस्तान से तकनीकी सपोर्ट मिलता था| पुलिस का कहना है कि इस अवैध धन का प्रयोग कर बड़े पैमाने पर तेजी से धर्मांतरण किया जा रहा है।

अब तक कितने लोगों का धर्मान्तरण करवा चुके हैं(How many people have converted so far by Maulana Kaleem Siddiqi)
एक ट्रस्ट की आड़ में वो पिछले 15 सालों से लोगों का धर्मांतरण(Religious Conversion) करवा रहे हैं| और अब तक लगभग 5 लाख लोगों का धर्मान्तरण करवा चुके हैं मौलाना कलीम सिद्दीक़ी|

कितने लोगों की हुई है गिरफ़्तारी मौलाना कलीम सिद्दीक़ी के साथ(How many people have been arrested with Maulana Kaleem Siddiqui)
मौलाना कलीम सिद्दीक़ी के साथ कलीम के ड्राइवर और अन्य 11 लोगों की गिरफ़्तारी की जा चुकी है| मौलाना सिद्दीक़ी को मेरठ से गिरफ्तार किया गया है जब वे नमाज पढ़ने के लिए निकले थे| जहाँ यूपी एटीएस की टीम ने पहुंचकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया|

यह भी पढ़ें- कौन हैं ललितेश त्रिपाठी जिन्होंने छोड़ा कांग्रेस का साथ, यूपी में पार्टी को कितना नुकसान

Mahima Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned