बावरिया गिरोह ने बैंक मैनेजर के घर लाखों की नगदी व जेवरात उड़ाये, सीसीटीवी फुटेज हुई वायरल

बावरिया गिरोह ने बैंक मैनेजर के घर लाखों की नगदी व जेवरात उड़ाये, सीसीटीवी फुटेज हुई वायरल
Bank Manager

Devesh Singh | Updated: 21 Aug 2019, 05:55:36 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

सारनाथ थाना क्षेत्र में लगातार देखे रहे सदस्य, लूटपाट करने के लिए हत्या करने के लिए बदनाम है गैंग

वाराणसी. सारनाथ थाना क्षेत्र में एक बार फिर बावरियों गिरोह की दस्तक ने पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा दिया है। बीती रात गिरोह के सदस्यों ने बैंक मैनेजर के घर धावा बोल कर लाखों का गहना व 1.30 लाख रुपये उडा़ दिये। सीसीटीवी फुटेज में पांच संदिग्ध देखे गये हैं जो बावरिया गैंग से जुड़े बताये जा रहे हैं। चोरी की सूचना पर पहुंची पुलिस ने अपनी जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि जल्द ही वह मामले का खुलासा करेगी।
यह भी पढ़े:-जानिए कौन है कैबिनेट मंत्री बनाये गये अनिल राजभर, जो करेंगे ओमप्रकाश राजभर के वोट बैंक में सेंधमारी



Bawaria gang
IMAGE CREDIT: Patrika

सारनाथ थाना क्षेत्र के आनंद विहार कॉलोनी (पहडिय़ा) निवासी राजकुमार श्रीवास्तव आजमगढ़ में यूनियन बैंक में ब्रांच मैनेजर है। राजकुमार श्रीवास्तव के परिवार में पत्नी व दो बच्चे हैं। एक बेटा दिल्ली तो दूसर पटना में रह कर पढ़ाई कर रहा है। राजकुमार श्रीवास्तव इन दिनों छूट्टी पर घर आये थे और आवास में उनके साथ पत्नी थी। बैंक मैनेजर जब सुबह जब उठे तो देखा कि घर का मुख्य दरवाजा रस्सी से बंधा हुआ है। इसके बाद वह पिछले दरवाजे के पास पहुंचे तो देखा कि वहां की खिड़की टूटी हुई है। यह देख कर राजकुमार डर गये और चिल्लाने लगे। इसके बाद घर के अंदर जाकर देखा तो आलमारी का ताला टूटा हुआ था और वहां रखे लाखों के जेवर व 1.30 लाख नगद गायब थे। बैंक मैनेजर ने सीसीटीवी में देखा तो आधी रात के पांच लोग जाते हुए कैमरे में कैद हुए थे, जिनकी पोशक बावरिया गिरोह की तरह थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू की है। बैंक मैनेजर के यहां पर चोरी करने वाले बावरिया गिरोह के सदस्य थे तो संजोग अच्छा था नहीं तो गिरोह के सदस्य परिवार के लोगों की हत्या तक कर सकते थे।
यह भी पढ़े:-पहली बार मंत्री बने बीजेपी के यह विधायक, आज भी निभाते हैं पिता से किया गया वायदा



पुलिस के लिए चोरी से बड़ा सिरदर्द बावरिया गिरोह है
सारनाथ पुलिस के लिए चोरी से बड़ा सिरदर्द बवारिया गिरोह है। इस गिरोह के सदस्य बेहरमी से हत्या कर लूटपाट करने के लिए जाने जाते हैं। सबसे बड़ा सवाल यह है कि सारनाथ थाना क्षेत्र में कुछ दिन पहले पाइप व्यवसायी धर्मेन्द्र गुप्ता की हत्या के बाद भी वहां पर बावरिया गिरोह का सीसीटीवी फुटेज वायरल हुई थी इसके बाद भी पुलिस गिरोह के सदस्यों को पकडऩे में नाकामयाब रही है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस रात में गश्त नहीं करती है इसलिए बावरिया गिरोह के सदस्य आराम से घुम रहे हैं। पुलिस ने जल्द ही इस गिरोह के सदस्यों को नहीं पकड़ा तो किसी दिन बड़ी घटना को अंजाम दे देंगे।
यह भी पढ़े:-अनुप्रिया पटेल का प्रियंका गांधी से मिलना पड़ा भारी, बीजेपी ने इस नेता को मंत्री बना कर उड़ायी नीद

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned