तौकते तूफान का असर: बरसात ने तोड़ा 52 वर्ष का रिकॉर्ड, झमाझम बारिश ने दी गर्मी से राहत

Taukte Cyclone- अरब सागर में उठे चक्रवाती Taukte तौकते के कारण बुधवार को वाराणसी में मौसम का मिजाज बदल गया

By: Karishma Lalwani

Published: 21 May 2021, 09:56 AM IST

वाराणसी. Taukte Cyclone. अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान (Taukte) तौकते के कारण बुधवार को वाराणसी में मौसम का मिजाज बदल गया। बुधवार भोर से लेकर गुरुवार शाम तक झमाझम बारिश हुई जिससे कि जिले में 52 वर्ष का रिकॉर्ड टूट गया। मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक 24 घंटे में गुरुवार तक 94.2 मिलीमीटर बरसात हुई। बुधवार की रात में बारिश बंद हो गई लेकिन भोर में फिर शुरू हो गई। वाराणसी व आसपास के जिलों में बूंदाबांदी हुई।मौसम वैज्ञानिक प्रो. एसएन पांडेय के मुताबिक वर्तमान में दक्षिणी-पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कम दबाव का क्षेत्र बना है। इससे अगले 24 घंटे तक मौसम में नमी बनी रहेगी। कुछ इलाकों में बारिश की संभावना है।

मौसम विभाग के अनुसार, इससे पहले वाराणसी जिले में 1969 में पूरे मई माह में 76.9 मिमी बरसात हुई थी। हालांकि उस वर्ष दो मई को 55.5 मिमी बारिश हुई। इसके बाद मई माह में अभी तक इतनी बारिश नहीं हुई थी। पूरे 52 वर्ष बाद फिर वाराणसी में झमाझम बारिश हुई है। इससे लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली है।

बंगाली की खाड़ी में एक और तूफान

मौसम विभाग का अनुमान है कि 24 मई तक बंगाल की खाड़ी में एक और तूफान आएगा। इससे पूर्वांचल उत्तर प्रदेश और बिहार में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। अगले 48 घंटे में इस बात को लेकर अलर्ट भी जारी किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें: चक्रवात ताउते का विमानों पर असर, यूपी से ये फ्लाइट्स निरस्त

ये भी पढ़ें: यूपी में 'ताउते' का असर, मौसम में परिवर्तन, संभावित तूफान के कारण कई ट्रेन कैंसिल

Weather forecast
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned