कमरे में बंदी बना कर रखे गये थे बुजुर्ग दम्पत्ति, पुलिस को व्हाट्सएप से मिला मैसेज तो हुआ खुलासा

मंडुवाडीह पुलिस ने दिखायी सक्रियता, जानिए क्या है कहानी

By: Devesh Singh

Updated: 04 Apr 2019, 06:56 PM IST

वाराणसी. मंडुवाडीह पुलिस को गुरुवार को व्हाट्सएप से एक मैसेज मिला। मैसेज में एक बुजुर्ग दम्पत्ति को कमरे में बंद करके रखे की सूचना थी। पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए मैसेज वाले स्थान पर पहुंची तो वह भी चौक गयी। एक बंद कमरे में बुजुर्ग को बंदी बना कर रखा गया था। कमरे में मलमूत्र फैला था। पता चला कि बहू व बेटे ने ही सम्पत्ति के लाचल में मां-बाप को बंदी बनाया है। पुलिस के पहुंचने की भनक लगते ही बेटा व बहू फरार हो गये थे जिनकी तलाश अब पुलिस कर रही है।
यह भी पढ़े:-फेसबुक पर दोस्ती कर मुआवजा पाने के लिए की बुजुर्ग की हत्या

गाजीपुर के दिलदारनगर निवासी लालजी यादव (70) व उनकी पत्नी मुनेश्वरी देवी (67) का बड़ा बेटा रामाशीष और उसकी पत्नी सत्ती देवी मंडुआडीह थाना क्षेत्र के भुल्लनपुर स्थित बाल्मिकी बस्ती में मकान बना कर रहते हैं। जबकि लालजी यादव का छोटा बेटा रामविलास शहर के बाहर रहता है। पिछले साल दीपावली पर बुजुर्ग दम्पत्ति अपने बड़े बेटे रामाशीष के यहां पर रहने आये थे। पुलिस के अनुसार सम्पत्ति के लालच में रामाशीष व उसकी पत्नी ने अपने माता व पिता को कमरे में बंद रखा था। होली पर छोटा बेटा रामविलास जब अपने माता-पिता से मिलने आया तो भाई व भाभी ने मिलने नहीं दिया। इसके बाद से छोटा बेटा परेशान था लेकिन माता व पिता की कोई खबर नहीं मिल रही थी। इसी बीच किसी ने पुलिस को व्हाट्सएप से बुजुर्ग दम्पत्ति के बंद होने की सूचना भेज दी थी। पुलिस ने बुजुर्ग दम्पत्ति को बेटे व बहू के कैद से आजाद करा लिया है। पुसिल ने बताया कि जब छापा मारा गया तो बुजुर्ग दम्पत्ति कमरे में बंद थे कमरे की स्थिति बहुत खराब थी वहां पर मलमूत्र फैला हुआ था। साथ ही बुजुर्ग दम्पत्ति बीमार भी लग रहे थे। पुलिस ने बुजुर्ग दम्पत्ति को छुड़ाने के बाद उनका प्राथमिक उपचार कराया और छोटे बेटे रामविलास के सुपुर्द कर दिया। पुसिल के अनुसार बड़े बेटे व बहू ने सम्पत्ति के लालच में अपने माता-पिता को बंधक बना कर रखा था। बेटे व बहू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तलाश की जा रही है।
यह भी पढ़े:-पत्नी के फांसी लगाने के बाद पति ने गमछे से लटक कर दी जान

Devesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned