वाराणसी में एक लाख इनामी बदमाश ढेर, 23 मुकदमे थे दर्ज, एसटीएफ ने बीच रोड पर मार गिराया

One lakh prize crook killed in Varanasi 23 cases were registered - वाराणसी में एसटीएफ ने सोमवार की दोपहर को मुठभेड़ में एक लाख के इनामी बदमाश को ढेर कर दिया। मारा गया बदमाश दीपक वर्मा वाराणसी व आसपास के जिलों में आतंक का पर्याय बन चुका था। सोमवार को वह पुलिस की गिरफ्त में आ गया।

By: Karishma Lalwani

Published: 14 Sep 2021, 12:46 PM IST

वाराणसी. One lakh prize crook killed in Varanasi 23 cases were registered. वाराणसी में एसटीएफ ने सोमवार की दोपहर को मुठभेड़ में एक लाख के इनामी बदमाश को ढेर कर दिया। मारा गया बदमाश दीपक वर्मा वाराणसी व आसपास के जिलों में आतंक का पर्याय बन चुका था। सोमवार को वह पुलिस की गिरफ्त में आ गया। चौबेपुर थाना क्षेत्र के बरियासनपुर गांव में बदमाश और एसटीएफ के बीच हुई गोलीबारी में इनामी बदमाश मारा गया। उस पर रंगदारी वसूलने का आरोप था। चिकित्सकों से रंगदारी वसूलने और सराफा कारोबारियों में दहशत का दूसरा नाम दीपक वाराणसी के लक्सा थाना क्षेत्र के रामापुर नई बस्ती का निवासी था। वह पिछले चार-पांच साल से फरार चल रहा था। पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई थी।

23 मुकदमे थे दर्ज

दीपक पर वाराणसी समेत आसपास के जिलों में 23 मुकदमे दर्ज थे। यूपी एसटीएफ वाराणसी इकाई के डिप्टी एसपी शैलेश सिंह की टीम को बदमाश के बारे में वहां होने की जानकारी हुई। टीम के पहुंचते ही दीपक ने खुद को घिरता देख फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रावाई में पुलिस ने भी उसे गोली मार दी। इस दौरान मुठभेड़ में एसटीएफ ने उसे मार गिराया। इससे पहले चार साल पहले सितंबर महीने में दीपक को गैंगवार में गोली मारी गई थी। इस बीच गैंगवार में 50 हजार का इनामी रईस बनारसी मारा गया था।

ये भी पढ़ें: माफिया मुख्तार अंसारी को बड़ा झटका, जमानतदारों ने वापस ली जमानत

ये भी पढ़ें: यूपीएससी ने असिस्टेंट प्रोफेसर, डीसीआईओ समेत कई पदों पर निकाली भर्ती, मिलेगी 7वां सीपीसी वेतन

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned