यहां पर पकड़ा गया एक लाख का इनामी बदमाश झुन्ना पंडित, एसटीएफ भी नहीं लगा पायी सुराग

यहां पर पकड़ा गया एक लाख का इनामी बदमाश झुन्ना पंडित, एसटीएफ भी नहीं लगा पायी सुराग
Jhunna Pandit

Devesh Singh | Updated: 11 Oct 2019, 02:31:07 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

दिव्यांग पान विक्रेता की दिनदहाड़े हत्या करने के बाद से फरार था बदमाश, क्राइम ब्रांच के एनकाउंटर में पकड़े गये थे गैंग के अन्य सदस्य

वाराणसी. एक लाख के इनामी बदमाश झुन्ना पंडित को पकडऩे के लिए बनारस पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच व एसटीएफ ने रात-दिन एक किया था इसके बाद भी इनामी बदमाश का कही सुराग नहीं मिल पाया। इनामी बदमाश को शुक्रवार को पंजाब की रोपड़ पुलिस ने अवैध असलहे के साथ गिरफ्तार किया है आरोप है कि पुलिस ने जब झुन्ना को रोकने का प्रयास किया तो उसने फायरिंग कर दी थी।
यह भी पढ़े:एक लाख के इनामी बदमाश झुन्ना पंडित की गिरफ्तारी के लिए महिलाओं ने दिया धरना

जरायम की दुनिया में तेजी से उभर रहे झुन्ना पंडित की गिरफ्तारी हो जाने से बनारस पुलिस को बड़ी राहत मिल गयी है। कैंट थाना क्षेत्र के मढ़वा में तीन सितम्बर 2019 को झुन्ना पंडित ने ताबड़तोड़ गोलियां चला कर दिव्यांग पान विक्रेता दिलीप पटेल की हत्या कर दी थी। घटना के बाद से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया था और घटना का सीसीटीवी सोशल मीडिया में वायरल हुआ था जिसके झुन्ना पंडित दोनों हाथों से असलहा चला रहा था। झुन्ना पंडित पर लगभग डेढ़ दर्जन मुकदमे दर्ज हैं। सबसे अधिक मुकदमा कैंट थाने में दर्ज है इसके बाद सारनाथ व शिवपुर पुलिस थाने में भी झुन्ना पर मुकदमा दर्ज है। झुन्ना पंडित पर दो बार गैंगस्टर लग चुका है। रंगदारी, जमीन कब्जा करना, लूट, हत्या आदि का आरोपी झुन्ना पंडित बेहद शातिर बदमाश है। जेल से बाहर आने के बाद ताबड़तोड़ वारदात को अंजाम देता है और जब पुलिस के एनकाउंटर का डर सताने लगता है तो वह कोर्ट में सरेंडर कर देता है या फिर कही और पर उसकी गिरफ्तारी हो जाती है। इससे वह पुलिस के एनकाउंटर से बच जाता है।
यह भी पढ़े:-देखिये हत्या का वीडियो, यह इनामी बदमाश चला रहा ऐसे गोली

बड़े मामलों में क्यों खाली रह जाते हैं पुलिस के हाथ
बड़े मामलों में अक्सर पुलिस के हाथ खाली रह जाते हैं। बनारस की बात की जाये तो घोसी सांसद अतुल राय पर यूपी कॉलेज की एक छात्रा ने रेप करने का अरोप लगाया था। इस प्रकरण ने इतना तूल पकड़ा था कि मायावती ने भी सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार पर राजनीतिक साजिश रचने का आरोप लगाया था। अतुल राय को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पायी थी और उन्होंने कोर्ट में सरेंडर किया था। चेतगंज थाना क्षेत्र के काली महाल में पति व पत्नी के डबल मर्डर से बनारस हिल गया था। एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने भी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही थी इसके बाद भी मुख्य आरोपी को पुलिस पकड़ नहीं पायी और उन्होंने कोर्ट में सरेंडर कर दिया। झुन्ना पंडित भी बनारस पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया। पंजाब पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है जिसे अब वारंट बी के जरिए बनारस लाने की तैयारी शुरू की गयी है।
यह भी पढ़े:-#KeyToSuccess दुनिया के एकमात्र वकील जो संस्कृत भाषा में 41 साल से लड़ रहे मुकदमा, विरोधियों के पास नहीं होता जवाब

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned