बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सरकार के लिए खास दिन संत समाज ने किया यज्ञ

बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सरकार के लिए खास दिन संत समाज ने किया यज्ञ
sant samaj worship

Devesh Singh | Publish: May, 21 2019 01:29:58 PM (IST) | Updated: May, 21 2019 01:29:59 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

कहा केन्द्र में पीएम नरेन्द्र मोदी की पूर्ण बहुमत वाली सरकार से राष्ट्र होगा मजबूत, बनारस से पीएम मोदी को मिले सात मतों से जीत

वाराणसी. केन्द्र में पीएम नरेन्द्र मोदी की पूर्ण बहुमत सरकार के लिए बनारस में संत समाज ने खास दिन यज्ञ किया है। नरहरीपुरा स्थित पतालपुरी मठ में जेठ माह के बड़े मंगल के खास दिन यज्ञ के साथ भगवान हनुमान की पूजा, रूद्री, विष्णु सहस्त्र का पाठ व नवग्रह की शांति के लिए पूजा की गयी है।
यह भी पढ़े:-एमपी में रहेगी या जायेगी कांग्रेस की सरकार, बीजेपी के इस दिग्गज नेता ने किया बड़ा खुलासा



पतालपुरी पीठाधीश्वर महंत बालक दास ने बताया कि एग्जिट पोल ने केन्द्र में बीजेपी सरकार को बहुमत मिलने की बात सामने आयी है। इसको लेकर संत समाज में बहुत खुशी है। हम लोग केन्द्र में पीएम नरेन्द्र मोदी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के लिए हवन किया है। उन्होंने कहा कि संत समाज चाहता है कि केन्द्र में बीजेपी को 400 से अधिक सीटे मिले। पीएम मोदी पूर्ण बहुमत की सरकार बनाये और सनातन धर्म के साथ राष्ट्र की भी रक्षा कर सके। महंत बालक दास ने कहा कि पूर्ण बहुमत मिलने पर सरकार को बड़े निर्णय लेने में आसानी होती है। यदि पूर्ण बहुमत नहीं मिलेगा तो सरकार देशहित में कोई बड़ा निर्णय नहीं ले पायेगी। इसलिए हम देश का विकास हो, राष्ट्र सशक्त हो और भारत विश्व गुरु बने। इसी उद्देश्य के साथ यज्ञ व पूजा-पाठ किया गया है। उन्होंने कहा कि हम लोगों ने हनुमान जी महाराज से आशीर्वाद मांगा है कि बनारस से पीएम नरेन्द्र मोदी सात लाख वोटों से चुनाव जीते। ऐसा होने पर बनारस की जनता गौरवांवित महसूस करेगी। जेठ के बड़ा मंगल के दिन पूजा करने के प्रश्र पर कहा कि मठ में गोस्वामी तुलसीदास द्वारा स्थापित दशिक्षमुखी हनुमान जी है और इस दिन खास पूजा करने से सभी मनोकामना पूर्ण होती है। उन्होंने कहा कि तीन तलाक से मुक्ति के लिए मुस्लिम महिलाओं ने यहां पर108 बार हनुमान जी का पाठ किया था। प्रभु ने उनकी प्रार्थना सुनी थी और सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक पर मुस्लिम महिलाओं के पक्ष में निर्णय दिया था।
यह भी पढ़े:-गुजरात के बाद बनारस में टूटा पीएम नरेन्द्र मोदी का सपना, आंकड़ों से हुआ खुलासा

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned