#by election result : गोरखपुर व फूलपुर उपचुनाव हारने के बाद बीजेपी पर ओमप्रकाश राजभर की पार्टी सुभासपा का बड़ा हमला

#by election result : गोरखपुर व फूलपुर उपचुनाव हारने के बाद बीजेपी पर ओमप्रकाश राजभर की पार्टी सुभासपा का बड़ा हमला

Devesh Singh | Publish: Mar, 14 2018 07:06:10 PM (IST) | Updated: Mar, 14 2018 07:16:30 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

#by election result : कहा अहंकार के चलते बीजेपी को दोनों सीटों पर मिली हार, राजभर वोटरों का भगवा पार्टी ने नहीं दिया ध्यान

वाराणसी. गोरखपुर व फूलपुर संसदीय सीट पर हुए उपचुनाव में बीजेपी को मिली हार को लेकर सहयोगी दल ने भी हमला बोलना शुरू कर दिया है। बीजेपी की सहयोगी ओमप्रकाश राजभर की पार्टी सुभासपा ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाया है। सुभासपा के प्रदेश महासचिव शशिप्रताप सिंह ने कहा कि अपने अहंकार के चलते ही बीजेपी को हार मिली है। दोनों ही सीटों पर राजभर वोटरों की संख्या बहुत थी इसके बाद भी कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर को चुनाव प्रचार में नहीं उतारा गया।
यह भी पढ़े:-जानिए गोरखपुर के डीएम राजीव रौतेला के बारे में, सीएम योगी ने हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी नहीं की कार्रवाई


सुभासपा के शशि प्रताप सिंह ने कहा कि गोरखपुर व फूलपुर में राजभर वोटरों क संख्या बहुत अधिक है इसके बाद भी ओमप्रकाश राजभर को नजर अंदाज कर चुनाव प्रचार करने से दूर रखा। इसके चलते राजभर समाज ने बीजेपी ने दूरी बना ली और नतीजा हुआ कि बीजेपी को करारी शिकस्त मिली। शशिप्रताप राजभर ने कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी , बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व प्रदेश अध्यक्ष डा.महेन्द्रनाथ पांडेय को अब मंथन करना चाहिए कि ओमप्रकाश राजभर का विकल्प बीजेपी के पास नहीं है। सुभासपा के पास इतनी ताकत होती है कि राजभर व अति पिछड़े वोटों के जरिए किसी भी सीट पर 50 हजार वोट की मोहताज नहीं होती है।
यह भी पढ़े:-सीएम योगी ने मानी हार, कहा इसके चलते हमारी पार्टी के प्रत्याशी हारे

अपना दल ने भी नहीं किया चुनाव प्रचार
बीजेपी ने अपना दल के वर्चस्व को खत्म करने के लिए ही बनारस के पूर्व मेयर कौशलेन्द्र सिंह पटेल को प्रत्याशी बनाया था। बीजेपी को लग रहा था कि पटेल बाहुल्य सीट पर बिना अपना दल के मदद की प्रत्याशी को जीता सकते हैं। इसके चलते बीजेपी की तरफ से अपना दल सोनेलाल पटेल गुट की अनुप्रिया पटेल ने भी चुनाव प्रचार नहीं किया। इसके चलते सीएम योगी व डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या दोनों ही सीट पर बीजेपी प्रत्याशी को शिकस्त खानी पड़ी।
यह भी पढ़े:-गोरखपुर व फूलपुर में बीजेपी की हार पर प्रदेश अध्यक्ष डा.महेन्द्रनाथ पांडये का बयान, सपा-बसपा गठबंधन नहीं इस कारण हारी पार्टी

Ad Block is Banned