संपत्ति विवाद में दामाद ने सास को पेट्रोल डाल कर जिंदा जलाया, हालत गंभीर

स्थानीय लोगों ने पानी फेक कर आग बुझायी, सूचना पर पहुंची पुलिस ने शुरू की जांच

By: Devesh Singh

Published: 25 Dec 2019, 02:57 PM IST

वाराणसी. भेलूपुर थाना क्षेत्र के मानस नगर कॉलोनी एक्सटेंशन में बुधवार की सुबह दामाद ने अपनी सास को पेट्रोल डाल कर आग लगा दी। आग लगने के बाद महिला बाहर भागी तो उसे देख कर स्थानीय लोगों भी सन्न रह गये। स्थानीय लोगों ने पानी डाल कर आग बुझायी और पुलिस को सूचना दी। इसके बाद परिजनों ने महिला को सर सुन्दर लाल अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां पर उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है। परिजनों का आरोप है कि सम्पत्ति विवाद में उसके दामाद ने ही सास को जिंदा जलाया है।
यह भी पढ़े:-दुकान में सर्राफा करोबारी की हत्या कर लाखों के जेवर लूटे

मानस नगर कॉलोनी एक्सटेंशन में नरेश कुमार लाल अपनी पत्नी पूनम के साथ रहते थे। नरेश का आरोप है कि उसका दामाद उमापति झा से सम्पत्ति विवाद चल रहा था। आठ साल तक उनकी बेटी अपने पति का साथ रहती थी लेकिन पति द्वारा मारपीट की घटना के बारे में कभी जानकारी नहीं दी थी। उन्होंने कहा कि शादी के समय बेटी को एक हजार स्कावयर फीट प्लाट का पैसा दिया था दामाद लगातार एक फ्लैट अपने नाम करने के लिए दबाव बनाता था। कुछ दिन पहले ही निजी कोचिंग में पढ़ाने वाले दामाद उमापति झा ने मारपीट कर उनकी बेटी को घर से निकाल दिया था इसके बाद बेटी जब अपने माता-पिता के यहां पर रहने के लिए आयी तो पति द्वारा प्रताडि़त करने की सारी कहानी बतायी। आरोप है कि सुबह दामाद अपने ससुराल पहुंचा और सम्पत्ति को लेकर विवाद करने लगे। नरेश कुमार लाल उस समय घर से दूर थे। आरोप है कि दामाद ने पेट्राल डाल कर सास को जिंदा जला दिया। आग लगने के बाद महिला घर से बाहर भागी तो स्थानीय लोगों ने उसकी आग बुझायी। वृद्धा को गंभीर हालत में बीएचयू भर्ती कराया गया है जहां पर वह 65 प्रतिशत जल चुकी है। घटना को अंजाम देने के बाद दामाद फरार हो गये हैं। भेलूपुर थाना प्रभारी राजीव रंजन उपाध्याय ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गयी है। पीडि़त पक्ष से तहरीर मिलने पर आगे की कार्रवाई की जायेगी।
यह भी पढ़े:-वरूणा नदी को प्रदूषण से बचाने के लिए लगाया गया अर्पण कलश

Show More
Devesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned