scriptthese diseases have become very common in women | महिलाओं में बहुत ही ज्यादा आम हो चुकी हैं ये बीमारियां, आप भी जानिए इनके बारे में | Patrika News

महिलाओं में बहुत ही ज्यादा आम हो चुकी हैं ये बीमारियां, आप भी जानिए इनके बारे में

आप भी जानिए महिलाओं में होने वाली इन बीमारियों के बारे में, जो आजकल बहुत ही ज्यादा कॉमन हो चुकी हैं। ताकि आप भी पहले से सतर्क रह सकें।

नई दिल्ली

Published: November 17, 2021 10:45:07 am

नई दिल्ली। जहां आजकल कि लाइफस्टाइल ऐसी हो गई है कि शरीर में कोई न कोई बीमारी लगी ही रहती है। वहीं आप बॉडी पर सही से फोकस भी नहीं कर पाते हैं और बीमार होते चले जाते हैं। वहीं महिलाएं भी आजकल वर्किंग हो गई हैं जो ऑफिस से लेकर के घर तक सबकी देखभाल करती हैं। ऐसे में यदि वो अपने ऊपर स्पेशल केयर नहीं करती हैं तो बीमारी होने का खतरा दो गुना हो जाता है। इसलिए आपको पहले से सतर्क होने कि जरूरत होती है। ताकि आप स्वस्थ और फिट रहे और बीमारियां भी कोसों दूर रहे।
ऐसे में आज हम आपको इन बीमारियों के बारे में बताएंगें जो बहुत ही ज्यादा कॉमन है। और इसका होने का खतरा औरतों में दो गुना रहता है।
महिलाओं में बहुत ही ज्यादा आम हो चुकी हैं ये बीमारियां, आप भी जानिए इनके बारे में
these diseases have become very common in women
पीसीओस
पीसीओस की बारे में तो आप अनेकों बार सुनते ही होंगें। ये बीमारी आजकल इतनी कॉमन हो गई है कि कम उम्र वाली लड़कियों को भी अपना शिकार बना रही है। पीसीओस बीमारी की बात करें तो ये शरीर में विटामिन डी कि कमी होने पर हो सकती है। शरीर में यदि विटामिन डी कि कमी हो जाती है तो ऐसे में ये बीमारी होने का खतरा दो गुना बढ़ जाता है। इसके लक्षणों कि बात करें तो इसमें पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम के मुख्य लक्षण वेट का तेजी से बढ़ना, बालों की तेजी से ग्रोथ, पीरियड्स में जरूरत से ज्यादा ब्लीडिंग होना, या पीरियड्स के दौरान कम फ्लो होना भी इसके लक्षणों में से एक है।
फोलेट की कमी
शरीर में यदि फोलेट की कमी हो जाए तो ये भी एक समस्या है। यदि आपके शरीर में फोलेट की कमी हो जाती है तो सबसे ज्यादा ये गर्भवती महिलाओं के लिए गंभीर साबित हो सकता है। इसके अनियमित रूप के होने से मिसकैरेज जैसी गंभीर समस्या हो सकती है। और लक्षणों की बात करें तो इसमें भ्रूण में रीढ़ से जुड़े विकार और टाइम से पहले प्रसव होने कि दिक्क्तें आ सकती हैं। फोलेट कि कमी को दूर करने के लिए आपको अपने डाइट कि स्पेशल केयर करने कि जरूरत होती है ताकि आप स्वस्थ रहे।
यह भी पढ़ें: पीरियड्स में यदि आप भी हैं हैवी फ्लो से परेशान तो अपना सकते हैं इन घरेलू उपायों को

यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन
इस बीमारी का शायद आपने नाम भी नहीं सुना होगा। पर ये बीमारी आजकल बहुत ही ज्यादा कॉमन है, जिसका खतरा महिलाओं को होने का दो गुना होता है। यूरिन कल्चर टेस्ट के जरिए आप इस गंभीर बीमारी के होने का पता लगा सकते हैं। इसमें होने वाले लक्षणों कि बात करें तो इसके होने पर आपको बार-बार टॉयलेट आ सकती है, ये टॉयलेट जाने कि बार-बार इच्छा होती है। और लक्षणों कि बात करें तो टॉयलेट करते समय जलन, दर्द, और अधिक मात्रा में यूरिन आ सकता है। यदि इस समस्या का सही समय पर इलाज नहीं कराया जाता है तो इसमें पेट में दर्द, ब्लीडिंग जैसी समस्या होना शुरू हो जाती है।
वजाइनल इन्फेक्शन
वजाइनल में इन्फेक्शन होना भी एक तरह कि बीमारी ही है। वजाइनल में इन्फेक्शन कई कारणों से हो सकते हैं इसमें से पैरेसाइट, बैक्टीरिया, और वायरस के संपर्क में आने से महिलाओं में ये प्रॉब्लम देखने को अधिक मिलती है। ज्यादातर बीमारियों या इन्फेक्शन के होने पर डॉक्टर सामान्य जांच के जरिए बीमारी का पता लगा लेते हैं। यदि आप इस बीमारी से खुद का बचाव करना चाहते हैं तो आपको अपने निजी अंगों की साफ-सफाई जरूरी होती है। यदि आप अपने प्राइवेट पार्ट्स का सही तरीके से ध्यान नहीं रखते हैं तो ऐसे में इन्फेक्शन होने का खतरा दो गुना बढ़ जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

गोवा में कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं, NCP शिवसेना के साथ मिलकर लड़ेगी चुनावAntrix-Devas deal पर बोली निर्मला सीतारमण, यूपीए सरकार की नाक के नीचे हुआ देश की सुरक्षा से खिलवाड़Delhi Riots: दिलबर नेगी हत्याकांड में हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, 6 आरोपियों को दी जमानतDelhi: 26 जनवरी पर बड़े आतंकी हमले का खतरा, IB ने जारी किया अलर्टपंजाबः अवैध खनन मामले में ईडी के ताबड़तोड़ छापे, सीएम चन्नी के भतीजे के ठिकानों पर दबिशLeopard: आदमखोर हुआ तेंदुआ, दो बच्चों को बनाया निवाला, वन विभाग ने दी सतर्क रहने की सलाहइन सेक्टरों में निकलने वाली हैं सरकारी भर्तियां, हर महीने 1 लाख रोजगारमहज 72 घंटे में टैंकों के लिए बना दिया पुल, जिंदा बमों को नाकाम कर बचाई कई जान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.