scriptApple-ChatGPT की डील पर एलन मस्क ने उठाए सवाल, एप्पल की डिवाइसेज बैन करने की दी धमकी, जानिए क्या है मामला? | Elon Musk raised questions on Apple-ChatGPT deal | Patrika News
विदेश

Apple-ChatGPT की डील पर एलन मस्क ने उठाए सवाल, एप्पल की डिवाइसेज बैन करने की दी धमकी, जानिए क्या है मामला?

एपल के इस फैसले को लेकर X के मालिक एलन मस्क (Elon Musk) ने प्राइवेसी और सिक्योरिटी पर सवाल उठाए हैं। उनका कहना है कि दोनों कंपनियों के बीच साझेदारी सुरक्षा नियमों का उल्लंघन है। अगर एपल अपनी डिवाइस में ChatGPT सपोर्ट देता है तो वह अपनी कंपनी में एपल की डिवाइसेज (आइफोन, आइमैक, आइपैड आदि) पर प्रतिबंध लगा देंगे।

नई दिल्लीJun 12, 2024 / 09:35 am

Jyoti Sharma

Elon Musk raised questions on Apple-ChatGPT deal

Elon Musk raised questions on Apple-ChatGPT deal

अपनी वर्ल्डवाइड डेवलपर्स कॉन्फ्रेंस (WWDC) 2024 में एपल (Apple) ने OpenAI के साथ साझेदारी पर मुहर लगा दी। इससे Apple के आइफोन को OpenAI के ChatGPT का सपोर्ट मिल गया है। कपंनी के मुताबिक उसके AI इकोसिस्टम में थर्ड पार्टी टूल की एंट्री हो गई है। यह टूल OpenAI का ChatGPT है। एपल के यूजर्स अब बिना लॉगिन किए चैटजीपीटी का इस्तेमाल कर सकेंगे। पेड यूजर्स अपने अकाउंट को डिवाइस से कनेक्ट कर सकेंगे।

Elon Musk ने उठाए सुरक्षा से जुड़े सवाल

एपल के इस फैसले को लेकर X के मालिक एलन मस्क (Elon Musk) ने प्राइवेसी और सिक्योरिटी पर सवाल उठाए हैं। उनका कहना है कि दोनों कंपनियों के बीच साझेदारी सुरक्षा नियमों का उल्लंघन है। अगर एपल अपनी डिवाइस में ChatGPT सपोर्ट देता है तो वह अपनी कंपनी में एपल की डिवाइसेज (आइफोन, आइमैक, आइपैड आदि) पर प्रतिबंध लगा देंगे। मस्क के मुताबिक ChatGPT के साथ कोई प्राइवेसी और सिक्योरिटी नहीं है। उन्होंने कहा कि उनके ऑफिस में आने वाले सभी विजिटर्स की जांच होगी। अगर किसी के पास आइफोन या आइपैड मिलेगा तो उसे सिक्योरिटी गेट पर जमा कर दिया जाएगा।

डिवाइस के लिए AI की पांच श्रेणियां

Apple ने अपनी डिवाइस के लिए एआइ को पांच श्रेणियों में बांटा है, जिनमें पावरफुल, इंटिग्रेटेड, इंसुएटिव, पर्सनल और प्राइवेट शामिल हैं। एपल ने बताया कि आइओएस 18 के साथ एआइ जेनरेटिव राइटिंग टूल मिलेगा, जो किसी भी कंटेंट को संक्षेप में लिख सकता है। यह एपल डिवाइस के सभी ऐप को सपोर्ट करेगा। एपल के यूजर्स मैसेज, कीनोट, फ्रीफॉर्म और पेजेज में एआइ इमेज बना सकेंगे तथा इस्तेमाल भी कर सकेंगे।

बेस्ट फोटो और वीडियो खुद चुनेगा AI

एपल के सीईओ टिम कुक (Tim Cook) ने एक्स पर पोस्ट में कहा कि एआइ को एपल डिवाइस में और बेहतर बनाने के लिए चैटजीपीटी की कंपनी ओपनएआइ के साथ साझेदारी की गई। एपल के एआइ को एपल इंटेलिजेंस नाम दिया गया है। इसका सपोर्ट फोटोज ऐप के लिए भी जारी किया गया है। फोटोज ऐप में एआइ बेस्ट फोटो और वीडियो को खुद सेलेक्ट कर सकता है तथा स्टोरीलाइन के साथ वीडियो बना सकता है।

Hindi News/ world / Apple-ChatGPT की डील पर एलन मस्क ने उठाए सवाल, एप्पल की डिवाइसेज बैन करने की दी धमकी, जानिए क्या है मामला?

ट्रेंडिंग वीडियो