script हरियाणा से 10 हज़ार लोग जाएंगे इज़रायल, जानिए वजह | Haryana government to send 10,000 workers to Israel | Patrika News

हरियाणा से 10 हज़ार लोग जाएंगे इज़रायल, जानिए वजह

locationनई दिल्लीPublished: Dec 19, 2023 03:15:03 pm

Submitted by:

Tanay Mishra

Haryana's 10,000 People To Go To Israel: हरियाणा से जल्द ही 10,000 लोग इज़रायल जाएंगे। क्या है इसकी वजह? आइए जानते हैं।

haryana_construction_workers.jpg
Haryana construction workers

इज़रायल (Israel) और फिलिस्तीनी आतंकी संगठन हमास (Hamas) के बीच 7 अक्टूबर को शुरू हुआ युद्ध अभी भी जारी है। हालांकि 24 नवंबर से युद्ध पर पहले 4 दिन के लिए, फिर 2 दिन और फिर 1 दिन यानी कि एक हफ्ते का विराम ज़रूर लगा और उस दौरान सीज़फायर का पालन भी किया गया पर एक हफ्ते के बाद उसे आगे नहीं बढ़ाया जा सका। इज़रायली सेना ने युद्ध विराम खत्म होते ही गाज़ा (Gaza) के साथ ही आसपास के फिलिस्तीनी इलाकों पर हमले शुरू कर दिए। युद्ध का असर इज़रायल पर भी पड़ रहा है पर इज़रायल में स्थिति खराब नहीं है। इसी बीच भारत के हरियाणा से 10,000 लोग इज़रायल जाएंगे।


हरियाणा सरकार भेजेगी 10,000 लोगों को इज़रायल

हरियाणा सरकार ने राज्य के 10,000 लोगों को इज़रायल भेजने का फैसला लिया है। इन लोगों को अंग्रेजी आना भी ज़रूरी नहीं है।

क्या है वजह?

इज़रायल और हमास के युद्ध के चलते इज़रायल से करीब 1 लाख फिलिस्तीनी मजदूरों को देश से वापस भेज दिया गया है। ऐसे में इज़रायली बिल्डर्स एसोसिएशन को नए मजदूरों की ज़रूरत है और वो चाहते हैं कि करीब 1 लाख भारतीय मजदूरों को काम करने के लिए वर्क परमिट दिया जाए। इज़रायल के बिल्डर्स एसोसिएशन ने 1 लाख भारतीय मजदूरों की ज़रूरत के बारे में देश के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) को भी जानकारी दी है और मांग की है कि उनकी ज़रूरत को जल्द पूरा किया जाए। ऐसे में इज़रायल के बिल्डर्स एसोसिएशन के अधिकारी भी भारत के संपर्क में हैं और इसी के तहत हरियाणा सरकार ने इसके लिए वैकेंसी भी निकाल दी है। हरियाणा कौशल रोजगार निगम ने भर्ती निकालते हुए कहा है कि हरियाणा सरकार इज़रायल में 10,000र लोगों को नौकरी देना चाहती है।

netanyahu_needs_1_lakh_indian_labours.jpg


क्या काम आना है ज़रुरुी?

हरियाणा सरकार जिन 10,000 लोगों को इज़रायल भेजेगी, उन्हें कामगारों के फ्रेमवर्क, शटरिंग, कारपेंटर और आयरन बेंडिंग, दीवारों और फर्श पर टाइल्स लगाने जैसे काम आना ज़रूरी है क्योंकि इज़रायल को कंस्ट्रक्शन वर्कर्स की ज़रूरत है। ऐसे में इज़रायल भेजने से पहले हरियाणा सरकार की तरह से इच्छुक लोगों का इंटरव्यू भी लिया जाएगा।

नौकरी के लिए क्या है ज़रुरी न्यूनतम योग्यता?

हरियाणा सरकार ने इज़रायल भेजने के लिए लोगों के लिए वैकेंसी निकाली है, उसके लिए इच्छुक लोगों की उम्र 25 से 54 साल होनी ज़रूरी है और उन्हें कम से कम 10वीं क्लास पास होने भी ज़रुरी है। नौकरी पाने वाला व्यक्ति हरियाणा का निवासी होना चाहिए और उसके पास हरियाणा का ही पहचान पत्र होना ज़रूरी है।

कितनी मिलेगी सैलरी?

हरियाणा सरकार की तरफ से जिन-जिन लोगों को नौकरी के लिए इज़रायल भेजा जाएगा, उन्हें सैलरी के तौर पर प्रति महीने 6,100 निस (भारतीय करेंसी के अनुसार करीब 1 लाख 34 हज़ार रुपये) मिलेंगे। सैलरी सीधे काम करने वालों के बैंक अकाउंट में जमा होगा और तभी दिया जाएगा जब कॉन्ट्रैक्ट पूरा हो जाएगा। इस दौरान इन लोगों को मिलने वाली राशि का ब्याज भी दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें

इज़रायल-हमास युद्ध के चलते मरने वाले फिलिस्तीनियों का आंकड़ा पहुंचा 19 हज़ार पार




ट्रेंडिंग वीडियो