scriptRussia Exercises Nuclear Missiles Drill amid Ukraine conflict | मिसाइल अभ्यास: यूक्रेन से तनाव के बीच रूस ने दिखाई ताकत, रूसी सेना ने किया परमाणु मिसाइलों का अभ्यास | Patrika News

मिसाइल अभ्यास: यूक्रेन से तनाव के बीच रूस ने दिखाई ताकत, रूसी सेना ने किया परमाणु मिसाइलों का अभ्यास

यूक्रेन तनाव के बीच रूस ने परमाणु मिसाइलों का परीक्षण करके दुनिया को अपनी ताकत का अहसास कराया है। इन रूसी मिसाइलों को जमीन, हवा और समुद्र के अंदर से दागा गया। खुद रूसी राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन इस ड्रिल के दौरान मौजूद रहे और उनके साथ बेलारूस के तानाशाह भी थे।

नई दिल्ली

Updated: February 20, 2022 04:30:37 pm

यूक्रेन और रूस विवाद रोजाना एक नया मोड़ ले रहा है। इसी कड़ी में सुपरपावर रूस ने शनिवार को थल, वायु और जल से महाविनाशक परमाणु मिसाइलों का सफल अभ्‍यास करके पूरी दुनिया को हिला डाला है। रूसी मिसाइलों में परंपरागत मिसाइलों के साथ- साथ दो हाइपरसोनिक मिसाइलें भी शामिल थीं जिनका तोड़ अभी दुनिया में किसी भी देश के पास नहीं है। ये रूसी मिसाइलें दुनिया के किसी भी कोने में परमाणु बम गिराने में सक्षम हैं जिससे किसी भी शहर को पलभर में राख के ढेर में बदला जा सकता है।
Russia Exercises Nuclear Missiles Drill amid Ukraine conflict
मिसाइल अभ्यास: यूक्रेन से तनाव के बीच रूस ने दिखाई ताकत, रूसी सेना ने किया परमाणु मिसाइलों का अभ्यास

रूस के इस परमाणु शक्ति प्रदर्शन के दौरान देश के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन और बेलारूस का तानाशाह लुकाशेंको भी क्रेमलिन में मौजूद रहे। इस अभ्‍यास की शुरुआत में रूस ने देश के पश्चिमोत्‍तर इलाके में स्थित रूसी अड्डे से मिसाइल दागी। इसके कुछ सेकंड बाद ही बैरंट सागर में एक पनडुब्‍बी की मदद से दूसरी मिसाइल को लांच किया गया। इन दोनों ही मिसाइलों ने हजारों किलोमीटर दूर स्थित अपने लक्ष्‍य को निशाना बनाया। इन मिसाइलों में विस्‍फोटक नहीं थे इसलिए कोई जनहानि नहीं हुई।

इन मिसाइलों का किया परीक्षण:


रूस ने जिन मिसाइलों परीक्षण किया उनमें यार्स मोबाइल अंतरमहाद्वीपीय मिसाइल, सिनेवा (समुद्र से लांच की जाने वाली बलिस्टिक मिसाइल), टीयू-95 बॉम्‍बर की मदद से हवा से दागे जाने वाली क्रूज मिसाइल, कैलिबर (सबमरीन से लांच की जाने वाली क्रूज मिसाइल), इस्‍कंदर जमीन से लांच की जाने वाली क्रूज मिसाइल शामिल हैं।

इसके अलावा रूस ने अपनी ब्रह्मास्‍त्र कहे जाने वाली हाइपरसोनिक मिसाइलों किंझल और जिरकॉन का भी परीक्षण करके दुन‍िया को सख्‍त संदेश दिया। किंझल को जहां मिग 31 के फाइटर जेट से वहीं जिरकॉन को जंगी जहाज से दागा गया।


यह भी पढ़ें

रूस और यूक्रेन विवाद: भारत पर पड़ सकता है इसका सीधा असर, तेल की कीमतों के साथ महंगाई बढ़ने की आशंका




रूस के रक्षा मंत्रालय ने इन मिसाइलों के परीक्षण के वीडियो को जारी किया है। एक वीडियो में रूसी जनरल वलेरी गेरासिमोव पुतिन से कहते नजर आ रहे हैं, 'इस अभ्‍यास का मुख्‍य मकसद रणनीतिक आक्रामक बल को प्रशिक्षण देना है ताकि दुश्‍मन की हार को हर तरीके से गारंटी दी जा सके।'

रूसी राष्‍ट्रपति कार्यालय ने कहा कि उत्‍तरी और काला सागर में मौजूद जंगी जहाजों और सबमरीन ने कैलिबर क्रूज मिसाइल और जिरकॉन हाइपरसोनिक मिसाइलों से समुद्र और जमीन पर मौजूद लक्ष्‍यों को निशाना बनाया।


यह भी पढ़ें

यूक्रेन पर हमला हुआ तो भारत किसका साथ देगा? अमेरिका जताई ये उम्मीद




देखें ये विडियो:

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.