scriptAgra Fire Incident: जिंदा जला कारपेट कारोबारी का बेटा, पड़ोसी से बोला-दो मिनट में अंदर से आया…फिर नहीं लौटा | Agra fire incident Fire breaks out three-storey house carpet businessman only son burnt alive | Patrika News
आगरा

Agra Fire Incident: जिंदा जला कारपेट कारोबारी का बेटा, पड़ोसी से बोला-दो मिनट में अंदर से आया…फिर नहीं लौटा

Agra Fire Incident: यूपी की ताजनगरी आगरा में एक कारपेट कारोबारी का बेटा आग में जिंदा जल गया। चार घंटे बाद दमकल कर्मियों ने आग बुझाई तो उसका अधजला शव मिला। इकलौते बेटे की मौत से परिवार में कोहराम मचा है।

आगराJun 21, 2024 / 04:25 pm

Vishnu Bajpai

Agra Fire Incident: जिंदा जला कारपेट कारोबारी का बेटा, पड़ोसी से बोला-दो मिनट में अंदर से आया...फिर नहीं लौटा

Agra Fire Incident: जिंदा जला कारपेट कारोबारी का बेटा, पड़ोसी से बोला-दो मिनट में अंदर से आया…फिर नहीं लौटा

Agra Fire Incident: उत्तर प्रदेश के आगरा निवासी कारपेट कारोबारी केजी वशिष्ठ का इकलौता बेटा भारत जिंदा जल गया। गुरुवार आधी रात उनके 3 मंजिला मकान में आग लगने के बाद धुआं भर गया तो परिवार को जानकारी हुई। आग की लपटों से बचते हुए भारत पिता को बाहर ले आए। पड़ोसियों से कहा-पापा को संभालिए। मैं बस दो मिनट में अंदर से आया। भारत तेज लपटों में फंस गए। इससे उनकी जलकर मौत हो गई। भारत 35 साल के थे। आग 4 घंटे बाद बुझाई जा सकी। पुलिस अंदर गई, तो भारत के शरीर के कुछ ही हिस्से मिले। बाकी जल गए थे। कंबल में शव को बटोरकर पुलिस पोस्टमॉर्टम के लिए ले गई।

आगरा के सदर थाना क्षेत्र की घटना

मामला आगरा के सदर इलाके का है यहां कावेरी विहार में रहने वाले केजी वशिष्ठ का कारपेट का कारोबार है। वह गुरुवार रात अपने बेटे भारत वशिष्ठ के साथ घर में थे। रात करीब 12.15 बजे आग लगी, तो पड़ोसियों ने पुलिस और फायर ब्रिगेड बुलाई। फायर ब्रिगेड की गाड़ी और पुलिस कावेरी विहार पहुंचे। तब तक घर पूरी तरह से आग की लपटों में घिर चुका था।
यह भी पढ़ें

संभल के ओयो होटल में मिला दिल्ली के युवक का शव, बेड पर बेसुध मिली 23 साल की लड़की

हादसे के वक्त पिता-पुत्र घर में थे। भारत की बहन ऑस्ट्रेलिया में रहती हैं। उनकी मां वहीं पर हैं सूचना दी गई है। लोगों ने बताया कि आग बुझने के बाद भारत का शव खराब कंडीशन में मिला। उनका पूरा शरीर जल गया था। केवल कुछ हिस्सा ही बचा था। उसे कंबल में लपेटकर पुलिस ले गई थी। आग लगने के बाद लोगों ने फायर ब्रिगेड और एंबुलेंस को फोन कर बुला लिया था।

प्रत्यक्षदर्शी ने बताया आगरा अग्निकांड का भयानक मंजर

प्रत्यक्षदर्शी विदुषी अग्रवाल ने बताया करीब 12 बजे हमें कुछ तेज आवाज सुनाई देने लगी। ऐसा लगा कि जैसे कांच चटक रहे हों। मेरे देवर ने कहा कि वशिष्ठ अंकल के घर पर कुछ हो गया है। जब बाहर निकले तो देखा उनके घर से आग की तेज लपटें निकल रही थीं। तभी भारत भइया आए और मेरे पति से बोले कि भइया पापा का ध्यान रखना। मैं बस 2 मिनट में आया। इसके बाद भारत चले गए और वो नहीं लौटे। वो घर में आग की लपटों में घिर गए। लोग उनको आवाज लगाते रहे, लेकिन अंदर से कोई रिस्पॉन्स नहीं आया।

सिलेंडर फटने से आसपास के घरों तक फैली दहशत

पड़ोसियों ने बताया सिलेंडर के धमाके के बाद आसपास के लोग दहशत में आ गए थे। पड़ोसियों ने बताया- पड़ोसियों ने बताया कि केजी वशिष्ठ के दो बच्चे हैं। बेटी की शादी हो गई है, जबकि भारत की शादी अभी नहीं हुई थी। शादी की बात चल रही थी। भारत की बहन आस्ट्रेलिया में रहती है। 15 दिन पहले भारत की मां बेटी के पास आस्ट्रेलिया गई थीं। घर में केवल पिता और बेटे ही थे। भारत पिता के साथ ही बिजनेस में हाथ बंटाता था।
यह भी पढ़ें

छह देशों को ऑनलाइन ट्रेनिंग देकर लाखों कमा रहे मनीष, दो बार बनाया विश्व रिकॉर्ड

घर के अंदर मंदिर में रखे दीपक से भड़की आग

फायर कर्मचारियों ने बताया ये आग मंदिर में रखे दीपक से भड़की थी। जब भारत दोबारा घर के अंदर गया, तब तक आग रसोई तक पहुंच चुकी थी। वहां रखे सिलेंडर में धमाका हुआ। इसके बाद आग और बेकाबू हो गई। भारत इसी में फंस गया। आग पूरी तरह ठंडी होने के बाद फायर ब्रिगेड की गाड़ियां शुक्रवार सुबह गईं।
-आगरा से प्रमोद कुशवाहा की रिपोर्ट

Hindi News/ Agra / Agra Fire Incident: जिंदा जला कारपेट कारोबारी का बेटा, पड़ोसी से बोला-दो मिनट में अंदर से आया…फिर नहीं लौटा

ट्रेंडिंग वीडियो