लाखों खर्च फिर भी सफाई व्यवस्था बेपटरी

लाखों खर्च फिर भी सफाई व्यवस्था बेपटरी

bhupendra singh | Publish: Aug, 14 2019 06:04:03 AM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

ये कैसी स्मार्ट सिटी : डिपो से नियमित नहीं उठा रहा कचरा

गली मोहल्लों में गंदगी का आलम, दिनभर मुंह मारते हैं मवेशी

अजमेर. हर महीने करीब 91 लाख रुपए खर्च करने के बावजूद स्मार्ट सिटी (smart city) अजमेर में सफाई व्यवस्था पटरी पर नहीं है। नगर निगम(nagar nigam) शहर में कितने ही बेहतर सफाई के दावे करे लेकि न हकीकत इसके उलट नजर आ रही है। न तो नियमित सफाई हो रही है और न ही नियमित रूप से कचरे का उठाव ही हो रहा है। शहर में सैकड़ों की संख्या में बनाए गए कचरा डिपो कचरे से अटे पड़े हैं। इनके बाहर सडक़ तक कचरा फैला हुआ है। खुले पड़े कचरा डिपो में फेंके गए कचरे में दिनभर मवेशी मुंह मारते रहते हैं। वैशाली नगर, खाईलैंड मार्कट,पंचशील,आदर्श नगर, प्रमुख चौराहों बनाए गए कचरा डिपो तथा कचरे से अटे हैं। शहर में प्रमुख जगहों पर लगाए गए भूमिगत कचरा पात्र भी कचरे से अटे देखे जा सकते हैं। कचरे के कारण आसपास दुर्गन्ध का माहौल है।

निरीक्षण का असर नहीं

कचरा समय पर नहीं उठने की शिकायतें मिलने पर पिछले दिनों नगर निगम आयुक्त ने अधिकारियों के साथ शहर की कचरा परिवहन व्यवस्था की जांच की थी। इस दौरान सामने आया कि शहर में कई जगहों पर कचरा डिपो से कचरा समय पर नहीं उठाया जा रहा है। इससे कचरा सड़ता रहता है इससे आसपास के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इससे नाराज आयुक्त ने ठेकेदारों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए थे इसके बावजूद व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ।
ये है व्यवस्था

शहर में 304 कचरा डिपो बनाए गए हैं। इनमें से 20 डिपो में सिर्फ सुबह के वक्त ही कचरा उठता है। कचरा उठाने के लिए 9 डम्पर, 9 लोडर तथा 27 टै्रक्टर लगाए गए हैं। शहर की सफाई व्यवस्था 2400 कर्मचारी संभालते हैं। इनमें 1300 स्थाई तथा शेष अस्थाई कर्मचारी हैं। सफाई व्यवस्था के लिए निगम ने शहर को तीन जोन व 9 सर्किलों में बांटा है। जोन नम्बर 1 में सर्किल नम्बर 1,8 व 9 शामिल किया गया है। जबकि जोन नम्बर 2 में सर्किल नम्बर 2,3 व 4 को शामिल किया गया है। जबकि जोन नम्बर 3 में सर्किल नम्बर 5,6 व 7 को शामिल किया गया है। एक सर्किल में 3 टै्रक्टर, 1 डम्बर तथा 1 लोडर को कचरा उठाने के लिए लगाया गया है। कंटेनर में भरे कचरे को खाली करने के लिए प्रत्येक जोन में 2-2 डम्पर प्लेसर गाडि़यां लगाई गई हैं।
हम कार्रवाई कर रहे हैं

शहर की कचरा संग्रहण व्यवस्था को और पुख्ता किया जाएगा। कार्य में लापरवाही बरतने वाले दो ठेकेदारों पर 56 हजार का जुर्माना लगाया गया है। इसके बाद भी सुधार नहीं हुआ तो ठेका निरस्त किया जाएगा। बरसात के कारण लौंगिया व नागफनी क्षेत्र में मिट्टी व मलवे की समस्या भी सामने आ रही है।

-रूपाराम चौधरी, स्वास्थ्य अधिकारी, अजेर नगर निगम

read more: थर्ड पार्टी इंस्पेक्शन के बाद ही पार्कों में लगेंगे जिम उपकरण

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned