Fraud: ऑनलाइन ठगी में निकले 2.58 लाख रुपए

raktim tiwari

Publish: Oct, 18 2019 07:50:00 AM (IST)

Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

अजमेर. शहर में ठगी (online theft) का सिलसिला थमता नहीं दिख रहा। गुरुवार को दो लोगों के खातों से 2.58 लाख रुपए निकलने के मामले सामने आए। दोनों व्यक्तियों के खाते से एक ही व्यक्ति ने रकम उड़ाई। पीडि़तों ने अलवर गेट और रामगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

read more: Ajmer Crime News : चाकू से फोड़ी युवक की आंखें, लाठी से पीट-पीट कर मार डाला

केस-1
सुभाष नगर नारीशाला रोड निवासी सुरेशचंद्र पाखरोट लोको कारखाना में कार्यरत हैं। पाखरोट ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि युवक अमित राठी उसके पास फरवरी में आया था। उसने खुद को इंड्सइंड बैंक कर्मचारी (bank employee) बताते हुए क्रेडिट कार्ड बनाने की बात कही। राठी को दिए दस्तावेज के अनुसार उनका क्रेडिट कार्ड (credit card) बन गया। उन्होंने दो-तीन बार इसका इस्तेमाल भी किया। कुछ दिन बाद अमित उनसे मिलने पहुंचा। उसने एप डाउनलोड (down load) करने के लिए मोबाइल मांगा। इसके बाद उसके खाते से दो बार में 87-87 हजार रुपए निकल गए। यह जानकारी उन्हें बीती 5 अक्टूबर को बैंक स्टेटमेंट निकालने पर मिली। राठी को फोन करने पर उसने ई-मित्र पर पैसा ट्रांसफर करने की बात कहते हुए तुरंत रिफंड का हवाला दिया। लेकिन एक सप्ताह से उसका फोन स्विच ऑफ है।

read more: Karva Chauth : परदेस से करतीं फोन ‘देश में निकला क्या चांद ’

केस-2
सोमलपुर रोड चिश्तिया मदरसे के सामने रहने वाले ताजुल इस्लाम ने रामगंज थाने में दी शिकायत में बताया कि इंड्सइंड बैंक का कर्मचारी अमित राठी ने उनका क्रेडिट कार्ड (credit card)बनाया था। एक दिन राठी उसकी दुकान पर पहुंचा। उसने एप डाउनलोड करने के लिए मोबाइल (mobile) मांगा। इसके बाद उसके खाते से 84 हजार रुपए निकल गए। राठी को फोन करने पर उसने गलती से पेमेंट ई-मित्र पर (e-mitra) ट्रांसफर करना बताते हुए जल्द रिफंड का हवाला दिया। लेकिन खाते में पैसा वापस नहीं आया है।

read more: Big issue: दूसरे शहरों का आसरा, स्पेशल कोर्स पढऩे का नहीं विकल्प

बैंक कर्मचारी नहीं...
पाखरोट और ताजुल ने बैंक कर्मचारी राठी के मामले में इंड्सइंड बैंक में संपर्क किया। बैंक ने अमित को अपना कर्मचारी नहीं होने की जानकारी दी। पाखरोट ने बताया कि बैंक ने ही राठी द्वारा कई लोगों से धोखाधड़ी की जानकारी दी।

read more: crime: रूपेंद्र पाल कोर्ट में पेश, गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का है छोटा भाई

फैक्ट फाइल..ठगी की पिछली वारदात
8 अगस्त को एआरजी टाउनशिप में रहने वाले संजय गर्ग के एचडीएफसी बैंक खाते से 28 हजार 836 रुपए निकल गए थे।
10 अगस्त को आजाद नगर खानपुनार निवासी मोहम्मद हुसैन और उसकी पत्नी के खाते से 40-40 हजार रुपए निकल गए थे।
16 सितंबर को नील मिश्रा के पृथ्वीराज मार्ग स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम से ठग ने कार्ड बदलक 67 हजार रुपए निकाल लिए थे।
3 अक्टूबर को प्रताप नगर लोहाखान निवासी अजीत सिंह राठौड़ के जयपुर के भांकरोटा स्थित आंध्रा बैंक के एटीएम से 5.28 लाख रुपए निकल गए थे। इसी तरह रतन हाउस मोती महल नगीना बाग निवासी संजय गर्ग के खाते से ठगों ने 80 हजार रुपए निकाल लिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned