फर्जी पट्टा बनाने एवं सरकारी भूमि हड़पने पर मुकदमे दर्ज

फर्जी पट्टा बनाने एवं सरकारी भूमि हड़पने पर मुकदमे दर्ज

Preeti Bhatt | Updated: 11 Oct 2019, 01:26:31 PM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

कूटरचित दस्तावेजों की सहायता से पट्टा बनाकर नगर पालिका की बेशकीमती जमीन हड़पने के मामले में केकड़ी थाना पुलिस ने कुल 8 आरोपितों के खिलाफ अलग-अलग 5 मुकदमे दर्ज

केकड़ी. कूटरचित दस्तावेजों की सहायता से पट्टा बनाकर नगर पालिका (nagar palika) की बेशकीमती जमीन हड़पने के मामले में केकड़ी थाना पुलिस (kekdi Police Station) ने कुल 8 आरोपितों के खिलाफ अलग-अलग 5 मुकदमे दर्ज किए हैं। थानाधिकारी महावीर प्रसाद शर्मा ने बताया कि नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी दीपेन्द्र सिंह शेखावत ने रिपोर्ट दी कि परितोष कुमार बांगड़, दुर्गादेवी शर्मा, सज्जन कंवर जैन, कौशल्या देवी बांगड़, कमला देवी माहेश्वरी एवं रामप्रसाद शर्मा ने वर्ष 1986 में अजमेर कोटा मार्ग पर स्थित जमीनों को खरीद कर अपने नाम पंजीकृत करवा ली।

Read More: उपभोक्ताओं को सुचारू विद्युत आपूर्ति प्राथमिकता : एमडी

इसके साथ ही इस जमीन के पास बने बाड़ों को भी खरीद लिया। कुछ समय बाद उक्त जमीन पर आवासीय कॉलोनी बना कर नगर पालिका से एनओसी (noc) प्राप्त कर ली। बाद में इन्होंने कूटरचित दस्तावेजों की सहायता से मुख्य मार्ग स्थित पालिका की भूमि को एनओसी शुदा जमीन का हिस्सा बता कर सरकारी भूमि का भी पट्टा जारी करवा लिया। पुलिस ने अलग-अलग रिपोर्ट पर दो मुकदमे दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Read More : जमीन विवाद में दो पक्षों में फायरिंग...........
खांचा भूमि खरीद में भी गड़बड़झाला

पुलिस के अनुसार सज्जन कंवर जैन, द्वारका प्रसाद शर्मा एवं शांतिलाल जैन ने उक्त जमीन के लगवा बेश्कीमती सरकारी जमीन(Government land) को खुली बोली से खरीदने के बजाए कूटरचित दस्तावेज व नक्शा आदि प्रस्तुत कर खांचा भूमि के रूप बता दिया तथा उक्त फर्जी दस्तावेजों की सहायता से लीज डीड को अपने पक्ष में पंजीबद्ध करा लिया। नियमानुसार खांचा भूमि उसे माना जाता है जिसमे भूमि स्वयं की विद्यमान भू-सम्पति से लगवा हो, उसका क्षेत्रफल किसी भी अवस्था में 100 वर्गगज से अधिक नहीं हो तथा उक्त भूमि स्वतंत्र रूप से विक्रय किए जाने के योग्य नहीं हो।

Read More: बलराम के घर पहुंच गई धर्मेन्द्र की आरसी

इसके बावजूद आरोपितों ने सरकारी अधिकारियों (government officers)से मिलीभगत कर सरकारी भूमि का पट्टा प्राप्त लिया। पुलिस ने तीन अलग-अलग प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। गौरतलब है कि दुर्गादेवी शर्मा पूर्व में पालिका अध्यक्ष, सज्जन कंवर जैन पूर्व में पार्षद एवं द्वारका प्रसाद शर्मा व शांतिलाल जैन पूर्व में भाजपा( bjp) के मण्डल अध्यक्ष रह चुके हैं। सज्जनकंवर व शांतिलाल जैन गत विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी रहे राजेन्द्र विनायका के माता-पिता है।

Read More : फिर बनाए ऑन लाइन ठगी के शिकार

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned