बोले ट्रांसपोर्टर...मेादीजी मत तलवाओ हमसे पकौड़े, वरना हो जाएगा ये हाल

www.patrika.com/rajasthan-news

By: raktim tiwari

Published: 24 Jul 2018, 09:26 AM IST

अजमेर

ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों की हड़ताल से मजदूर वर्ग पर बुरा असर पड़ रहा है। हड़ताल से हमाल और लोडिंग टैम्पो वाले बेरोजगार हो गए है। उधर हड़ताल के ट्रांसपोर्ट व्यापारियों को अब तक करीब 4 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है।

वहीं प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से जिले में तीस हजार से ज्यादा लोगों के रोजगार पर असर पड़ा है। उधर हड़ताल से क्षेत्र में मजदूरों को पिछले तीन दिनों से काम नहीं मिल रहा है। ट्रांसपोर्टर्स के यहां से शहर में माल सप्लाई करने में लगे ऑटोरिक्शा और छोटे लोडिंग वाहन चालकों की कमाई नहीं हो रही है।

'खर्चे कैसे निकालेंगे

हड़ताल के चलते तीन दिनों से रोजगार का संकट हो रहा है। ट्रक आ ही नहीं रहे है तो बुकिंग ही नहीं मिल रहा है। ऐसा चला तो खर्चे कैसे निकालेंगे गाड़ी की किस्त कैसे चुकाएंगे।
-जसराज गुर्जर, श्रमिक

ट्रांसपोर्ट कंपनियों में बुकिंग बंद होने से लदान और उतार बंद है। तो हमारी मजदूरी कैसे शुरू रह सकती है। हम तो रोज कुआं खोदते हैं, रोज पानी पीते है। हड़़ताल से हालात खराब होते जा रहे है।
-रमेश, श्रमिक

माल उतर ही नहीं रहा है, तो ठेले वालो को कैसे काम मिलेगा। सौ-दो सौ की भी मजदूरी नहीं मिल रही है। जैसे-जैसे दिन बीतेंगे हाल खराब होंगे।
-मि_्ठू भाई नायक, श्रमिक

ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों ने तले मोदी पकौड़े

ट्रक ट्रांसपोर्ट संघ के बैनर तले व्यापारी सुबह पड़ाव क्षेत्र में एकत्र हुए। व्यापारियों ने गैस, तेल, कढ़ाही सहित पकौड़े बनाने की सामग्री मंगवाई और पकौड़े तले। इससे पूर्व व्यवसायियों ने प्रदर्शन किया।
प्रवक्ता हेमन्त तायल ने बताया कि दिल्ली की सब्जी मंडी आजादपुर में बाहर से आने वाली ट्रकों की आवक शून्य हो गई है। इसके चलते फलों के व्यवासाय पर असर पड़ेगा। सप्लाई नहीं होने से फल खराब होंगे। इससे जल्द ही अन्य क्षेत्रों में भी फलों के दामों पर पड़ेगा।

संघ के उप सचिव देवेन्द्र तायल ने बताया कि बुंिकंग एवं डिलीवरी का कामकाज पूरी तरह ठप है। इस अवसर पर पुष्करनारायण महावर, श्रीनिवास बाहेती, देवेन्द्र तायल, दिपेश गर्ग, विजय तिलोकानी, सौरभ जैन, हेमन्त तायल, लक्ष्मण तिलोकानी, मोईन खान, रंगलाल गुर्जर, रामनाथ गुर्जर, विकास जैन, रामगोपाल, भंवर, जय शिवनानी, अनिल सहित कई अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।
------------------

टोल कंपनियों पर मार
ट्रांसपोटर्स की हड़ताल से राजमार्ग पर ट्रैफिक कम होता जा रहा है। इससे यात्री वाहनों को तो फायदा हो रहा है, लेकिन टोल कंपनियों पर राजस्व कम हो गया है। सूत्रों के अनुसार रविवार तक 30 से ज्यादा प्रतिशत ट्रैफिक कम रहा। ट्रैफिक कम होने से टोल प्लाजा पर राजस्व कम हो गया है। प्रवक्ता हेमन्त तायल के अनुसार अभी तो जो ट्रक रास्ते में हैं वह अपने गंतव्य पर जा रहे है। थोड़े दिनों पर इसका व्यापक असर होगा।

pm modi
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned