तीर्थनगरी में जल संकट, नवम्बर में कैसे लगाएंगे लोग पानी में डुबकी

www.patrika.com/rajasthan-news

raktim tiwari

October, 3109:26 AM

पुष्कर.

तीर्थनगरी में जल संकट को लेकर चारों ओर त्राहि-त्राहि मची हुई है। इससे आामजन में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। उधर नवम्बर में पुष्कर मेला भी भरेगा। सरोवर में पर्याप्त पानी नहीं है। ऐसे में लोग कार्तिक स्नान कैसे होगा, इसको लेकर चिंता बढ़ गई है।

पिछले दिनों गंगा माई मंदिर तीज बड़ी मोहल्ला व अन्य वार्डों के बाशिन्दों ने जलदाय विभाग के पम्प हाउस पर प्रदर्शन कर विरोध जताया। गोपाल तिलानिया, जगदीश कुर्डिया की मौजूदगी में महिलाओं, बच्चों, व युवकों ने सहायक अभियंता एस. के. माथुर का घेराव करके उन्हें चूडिय़ां पहनाने का कार्यक्रम था लेकिन विरोध के दौरान माथुर मौके पर नहीं मिले।

इस पर जिला कलक्टर आरती डोगरा को फोन पर समस्या से अवगत कराया गया। आरोप लगाया गया कि पांच दिन से वार्ड में पीने का पानी नहीं आ रहा है।

बिना अनुमति मुख्यालय छोड़ रहे एईन

जलदाय विभाग के सहायक अभियंता माथुर चुनाव के मद्देनजर पाबंदी लगने के बावजूद बिना उच्चाधिकारियों की अनुमति के मुख्यालय छोड़ कर ब्यावर अपने घर चले जाते हैं। कांगे्रस के गोपाल तिलानिया ने विरोध के दौरान कलक्टर डोगरा को इस आशय की शिकायत भी की।

72 घंटे के अन्तराल में 1 घंटे पानी देने के निर्देश

सहायक अभियंता माथुर का कहना है कि पुष्कर में रविवार से 72 घंटे के अन्तराल मे निर्धारत चार्ट के आधार पर एक घंटा लगातार पानी दने के निर्देश एसई से मिले हैं। यह व्यवस्था रविवार से शुरू कर दी जाएगी।
अवैध कनेक्शन काटे, आवेदक को नोटिस जारीवीआईपी रोड के घुमाव पर मारवाड़ बस स्टैंड के पास स्थित आवास में बीसलपुर लाइन के वाल्व से पूर्व ठेकेदार की मनमर्जी से किए गए दोनों अवैध कनेक्शन शनिवार को काट दिए गए है। दोनों कनेक्शन धारकों को विभाग ने नोटिस जारी कर दिए हैं।

जानकारी मिलने के साथ ही आज दोपहर को पानी वितरित कर दिया गया। प्रेशर से नही होने से समस्या आ गई थी। मुख्यालय छोडऩे पर पाबंदी है लेकिन रोटी तो घर पर ही जाकर खानी पड़ती है। अवकाश के दिनों में चला जाता हूं।

-एस. के. माथुर, सहायक अभियंता जलदाय विभाग पुष्कर

Show More
raktim tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned