scriptShaista Parveen: शाइस्ता परवीन होगी एक लाख इनामी! हिस्ट्रीशीट खोलने की तैयारी, गुर्गों से कराती थी ये काम | Shaista Parveen can be one lakh prize in umesh pal case | Patrika News
प्रयागराज

Shaista Parveen: शाइस्ता परवीन होगी एक लाख इनामी! हिस्ट्रीशीट खोलने की तैयारी, गुर्गों से कराती थी ये काम

Shaista Parveen: माफिया डॉन अतीक की पत्नी शाइस्ता की हिस्ट्रीशीट खोलने की तैयारी चल रही है। धूमनंगज पुलिस ने अधिकारियों से सलाह मांगी है। वहीं, सूत्रों का दावा है क‌ि 50 हजार की इनामी शाइस्ता पर जल्द ही एक लाख का इनाम घोषित हो सकता है।

प्रयागराजMay 12, 2023 / 05:42 pm

Aman Pandey

shaista_parveen.jpg

पुलिस उमेश पाल हत्याकांड में फरार शाइस्ता परवीन की हिस्ट्रीशीट खोलने की तैयारी में जुटी है।

Shaista Parveen: उमेश पाल हत्याकांड में फरार माफिया डॉन अतीक की पत्नी और 50 हजार की इनामी शाइस्ता परवीन की हिस्ट्रीशीट खुल सकती है। शाइस्ता के खिलाफ अब तक आधा दर्जन मुकदमे दर्ज हैं। इन्हीं मुकदमों के आधार पर धूमनगंज पुलिस हिस्ट्रीशीट खोलने की तैयारी में है। पुलिस ने दो मई के एक एफआईआर में शाइस्ता के लिए माफिया अपराधी शब्द का प्रयोग किया था।
अतीक की पत्नी शाइस्ता उमेश पाल हत्याकांड में अभी भी फरार है। पुलिस तमाम प्रयास के बाद भी पकड़ नहीं पा रही है। गुरुवार को भी शाइस्ता की तलाश में पुलिस ने कई जगह दबिश दी, लेकिन उसका पता नहीं चला। अब धूमनगंज पुलिस शाइस्ता की हिस्ट्रीशीट खोलने के प्रयास में है। उसके खिलाफ मुकदमों की जानकारी जुटाई जा रही है।
यह भी पढ़ें

Atiq Ashraf Murder: अतीक के वकील की चैट में गुजरात से लेकर दिल्ली तक के राज, सफेदपोशों से ऐसे हुई थी डील

शाइस्ता पर दर्ज 6 मुकदमों के बारे में मिली है जानकारी
पुलिस सूत्रों के अनुसार, अब तक शाइस्ता के खिलाफ दर्ज आधा दर्जन मुकदमों के बारे में पता चला है। इसमें सबसे प्रमुख उमेश पाल और दो सिपाहियों की हत्या में दर्ज एफआईआर है। इसके अलावा बेटे अली का फर्जी आई कार्ड बनवाने, असलहों का लाइसेंस लेने के लिए तथ्यों को छिपाने और अवैध असलहा रखने जैसे मामले दर्ज हैं।
शूटरों की करती थी मदद
पुलिस ने उमेश पाल हत्याकांड की जांच में शाइस्ता की भूमिका का साफ-साफ उल्लेख किया है। शाइस्ता न सिर्फ साजिश में शामिल होती थी, बल्कि अपने बेटों के माध्यम से शूटरों को आईफोन और लाखों रुपये पहुंचवाती थी। हत्या के बाद शूटरों के छिपने में भी उसने मदद की थी। पुलिस ने जांच में यह भी बताया है कि अतीक के जेल जाने के बाद उसके कारोबार को शाइस्ता ही संभाल रही थी। वह कुछ लोगों की मदद से अतीक गिरोह की पूरी वसूली को अंजाम दे रही थी।
यह भी पढ़ें
Yashasvi Jaiswal:

आईपीएल में सबसे तेज अर्धशतक लगाने वाले जायसवाल ऐसे ही नहीं हुए हैं ‘यशस्वी’, सफलता की राह रही है बेहद कठिन

धूमनगंज इंस्पेक्टर ने दो मई को असद के दोस्त आतिन जफर की गिरफ्तारी वाली एफआईआर में शाइस्ता को माफिया अपराधी लिखा था। हालांकि, बिना हिस्ट्रीशीट खुले कोई भी अपराधी माफिया नहीं हो सकता। ऐसे में धूमनगंज पुलिस ने शाइस्ता की हिस्ट्रीशीट खोलने के लिए अधिकारियों से सलाह मांगी है। वहां से निर्देश मिलने के बाद शाइस्ता परवीन की हिस्ट्रीशीट खोली जाएगी।
फरार शाइस्ता पर फिर बढ़ सकता है इनाम
पुलिस सूत्रों के अनुसार, 50 हजार की इनामी शाइस्ता परवीन पर फिर इनाम बढ़ सकता है। उमेश पाल हत्याकांड को ढाई महीने बीत चुके हैं, लेकिन शाइस्ता को अभी तक पुलिस नहीं पकड़ सकी है। सूत्र बताते हैं कि अब तक 50 हजार की इनामी शाइस्ता पर जल्द ही एक लाख इनाम घोषित हो सकता है।

Hindi News/ Prayagraj / Shaista Parveen: शाइस्ता परवीन होगी एक लाख इनामी! हिस्ट्रीशीट खोलने की तैयारी, गुर्गों से कराती थी ये काम

ट्रेंडिंग वीडियो