आज हटेगी निषेधाज्ञा, इंटरनेट सेवा बहाल, स्कूल भी खुलेंगे

अयोध्या मामले में शनिवार को आए फैसले के बाद जिले भर में शांति व सौहार्द कायम है। कहीं से किसी प्रकार की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। लोगों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। इसके चलते जिला प्रशासन ने सोमवार सुबह 8 बजे से जिले में लागू धारा 144 हटाने का निर्णय किया है। पूर्व में जिला प्रशासन ने 15 नवम्बर तक धारा 144 लागू करने के आदेश दिए थे, लेकिन स्थिति सौहाद्र्रपूर्ण देख निर्णय को बदल दिया गया।

Prem Pathak

November, 1106:00 AM

Alwar, Alwar, Rajasthan, India

अलवर. अयोध्या मामले में शनिवार को आए फैसले के बाद जिले भर में शांति व सौहार्द कायम है। कहीं से किसी प्रकार की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। लोगों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। इसके चलते जिला प्रशासन ने सोमवार सुबह 8 बजे से जिले में लागू धारा 144 हटाने का निर्णय किया है। पूर्व में जिला प्रशासन ने 15 नवम्बर तक धारा 144 लागू करने के आदेश दिए थे, लेकिन स्थिति सौहाद्र्रपूर्ण देख निर्णय को बदल दिया गया। वहीं जिले में इंटरनेट सेवा रविवार दोपहर को बहाल कर दी गई। वहीं सोमवार से स्कूल व कॉलेज में भी अध्ययन कार्य होगा। जिला पुलिस और प्रशासन पूरी तरह अलर्ट है, लेकिन सोशल मीडिया पर पूरी निगरानी बनाए हुए है। जिले भर में सुरक्षा व्यवस्था फिलहाल पूर्व की तरह जारी रहेगी। पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों को पूरी तरह निगरानी व सतर्कता के निर्देश जारी किए गए हैं।
सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर जिला प्रशासन व पुलिस ने शुक्रवार शाम को जिले में अलर्ट घोषित कर दिया था। पुलिस प्रशासन ने जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुख्ता सुरक्षा इंतजाम किए। शुक्रवार देर रात जिले में धारा-144 लागू करने और स्कूल-कॉलेजों की छुट्टी की घोषणा कर दी गई। शनिवार सुबह 8 बजे से धारा-144 लागू कर दी गई तथा जिलेभर में पुलिस प्रशासन की ओर से फ्लैग मार्च किया गया। वहीं, फैसले के बाद दोपहर में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई। ताकि जिले में शांतिपूर्ण माहौल बना रहे। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद जिले भर में शांति रही। इस कारण जिला प्रशासन ने जिले में सोमवार सुबह 8 बजे से धारा-144 हटाने के आदेश दिए हैं। फिलहाल संवेदनशील इलाकों में पुलिस को गश्त करने के निर्देश दिए हैं।

सोशल मीडिया पर पूरी नजर
जिले में शांतिपूर्ण माहौल को देखते हुए भले ही इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गई है, लेकिन पुलिस और प्रशासन सोशल मीडिया पर चलने वाली गतिविधियों पर विशेष नजर बनाए हुए हैं। इस बात की पूरी निगरानी रखी जा रही है कि कोई भी व्यक्ति अयोध्या मामले में आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर किसी प्रकार से माहौल खराब करने की कोशिश न करे।

कंट्रोल रूम से लेते रहे जानकारी
एहतियात के तौर पर जिले में शनिवार दोपहर को इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी, जो कि रविवार दोपहर में बहाल हो सकी। इस दौरान प्रदेश पुलिस मुख्यालय से जिला पुलिस कंट्रोल रूम के माध्यम से पल पल की जानकारी ली जाती रही।

शांतिपूर्ण माहौल

अयोध्या मामले को लेकर आए फैसले के बाद से जिले मे पुलिस प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है। पूर्णतया शांतिपूर्ण माहौल बना हुआ है। इंटरनेट सेवा बहाली के बाद से सोशल मीडिया पर भी पूरी निगरानी रखी जा रही है।
- परिस देशमुख, पुलिस अधीक्षक, अलवर।

पुलिस गश्त जारी
जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिले में पुख्ता बंदोबस्त किए हुए हैं। संवेदनशील इलाकों में पुलिस गश्त जारी है तथा सोशल मीडिया पर भी निगरानी रखी जा रही है। जिले में पूरी तरह से शांति बनी हुइ है।

- अमनदीप सिंह, पुलिस अधीक्षक, भिवाड़ी।

जिले में शांति, धारा 144 हटाने के निर्देश

जिले भर में पूरी तरह शांति है। सभी जगह सद्भाव का माहौल है। इस कारण सोमवार सुबह 8 बजे से धारा 144 हटाने के आदेश दिए गए हैं। स्कूल व कॉलेज भी सोमवार से पूरी तरह खुले रहेंगे। जिले भर में सुरक्षा व्यवस्था व निगरानी के निर्देश दिए हैं।

इंद्रजीत सिंह

जिला कलक्टर अलवर

अलवर ने पेश की सौहाद्र्र व भाइचारे की मिसाल

अलवर जिला गंगा जमुनी संस्कृति का परिचायक रहा है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अलवर जिले ने प्रदेश में एक बार फिर से सौहाद्र्र व भाइचारे की मिसाल कायम की है। जिले भर में सभी जगह सौहाद्र्र व शांति कायम रही। कहीं से किसी प्रकार की घटना की कोई सूचना नहीं है। जिले में लोगों की दिनचर्या पूर्व की तरह जारी रही।

Prem Pathak
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned