पिता से बोला- दोस्तों के साथ हूं, थोड़ी देर में आ जाऊंगा, फिर पुलिस ने किया दिल दहलाने वाला फोन, 2 की मौत

Road Accident: पिता की बाइक लेकर निकला था बेटा, ड्यूटी जाने के लिए पिता ने बेटे के मोबाइल पर किया था कॉल, तीसरे युवक का इलाज जारी

By: rampravesh vishwakarma

Published: 07 Sep 2021, 08:07 PM IST

अंबिकापुर. राजपुर थाना क्षेत्र के चांची मुख्य मार्ग पर रविवार की शाम बाइक सवार 3 युवक सड़क किनारे खड़े ट्रक से टकरा गए। दुर्घटना में तीनों गंभीर रूप से जख्मी हो गई। बरियों चौकी पुलिस द्वारा घायलों को इलाज के लिए संजीवनी 108 से मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा गया।

यहां जांच पश्चात चिकित्सकों ने 2 युवकों को मृत घोषित कर दिया। घटना से चंद घंटे पहले एक युवक के पिता ने पूछा तो बताया कि वह दोस्तों के साथ है, कुछ देर में घर आ जाएगा।

इसी बीच अस्पताल से सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल होने की खबर आई। यह सुनते ही घर में कोहराम मच गया। जब परिजन अस्पताल पहुंचे तो युवक व उसके दोस्त की मौत हो चुकी थी।


बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के राजपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम भेसकी निवासी महेंद्र तिग्गा पिता सतन तिग्गा उम्र 20 वर्ष, अमृत कसेर पिता राधेश्याम कसेर व ग्राम बघिमा निवासी राजेश गोंड़ रविवार की सुबह अमृत की बाइक से कहीं गए थे। दोपहर को अमृत के पिता ड्यूटी से घर आए तो पता चला कि वह बाइक से कहीं गया है।

Read More: शहर के भीतर तेज रफ्तार ट्रक ने स्कूटी सवार को पीछे से मारी टक्कर फिर घसीटता ले गया, दर्दनाक मौत

पिता ने अमृत के मोबाइल पर फोन लगाया तो उसने बताया कि राजेश के साथ बघिमा में हूं, आ रहा हूं। इसके बाद अमृत के पिता पुन: ड्यूटी चले गए। इसके बाद देर शाम तक सभी वापस नहीं लौटे।

शाम करीब 7 बजे बरियों पुलिस ने महेंद्र के परिजन के पास फोन कर घटना की जानकारी देते हुए बताया कि युवकों की बाइक सड़क किनारे खड़े ट्रक से टकरा गई है और तीनों घायल हो गए हैं। इसके बाद घर में चीख-पुकार मच गई। इसके बाद सभी के परिजन चांची पहुंचे। (Road Accident)

Read More: सड़क हादसे में 2 युवकों की मौत, एक ट्रॉली से टकराया तो दूसरा पिकअप दुर्घटना का हुआ शिकार


डॉक्टरों ने 2 युवकों को घोषित किया मृत
इधर पुलिस ने तीनों को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया था। यहां जांच के दौरान चिकित्सकों ने महेंद्र व अमृत को मृत घोषित कर दिया। वहीं राजेश का इलाज चल रहा है। इस हादसे से मृतकों के परिजन सदमे में हैं, उनका रो-रोकर बुरा हाल है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned