scriptएनएच पर बाइक-स्कूटी की भिड़ंत में दशगात्र कार्यक्रम से लौट रहे युवक की मौत, महिला समेत 4 घायल | Road accident: Young man death in bike-scooty collision, 4 injured | Patrika News
अंबिकापुर

एनएच पर बाइक-स्कूटी की भिड़ंत में दशगात्र कार्यक्रम से लौट रहे युवक की मौत, महिला समेत 4 घायल

Road accident: एक घंटे बंद रहा नेशनल हाइवे-43, घायलों को बतौली अस्पताल में समय पर नहीं मिल सका इलाज, रेफरल सेंटर के रूप में अस्पताल कर रहा काम

अंबिकापुरMar 24, 2024 / 09:05 am

rampravesh vishwakarma

road accident

Road accident on NH

बतौली. Road accident: अंबिकापुर-रायगढ़ एनएच-43 पर बतौली पुल के पास शनिवार की सुबह बाइक व स्कूटी में भिड़ंत हो गई। दुर्घटना में बाइक सवार युवक की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि 4 लोग घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बतौली में भर्ती कराया गया। यहां घायलों को इलाज के लिए 1 घंटे तक इंतजार करना पड़ा। इसके बाद इन्हें बेहतर इलाज के लिए अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया। वहीं घटना के बाद मौके पर एक घंटे तक एनएच जाम रहा। सडक़ के दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लग गई।

जशपुर जिले के पंडरापाट थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम गेरसा निवासी देवधारी नगेशिया (25) शनिवार की सुबह दशगात्र कार्यक्रम में शामिल होकर बाइक से अपने साले प्रभु (18) व सुरजो बाई (40) के साथ घर लौट रहा था। बतौली पहुंचने से पहले पुल के पास बाइक की गति तेज होने के कारण उछलकर सामने से आ रही स्कूटी से टकरा गई।
दुर्घटना में स्कूटी सवार मनोज पिता पारस नाथ व मनोज गुप्ता पिता बनारसी गुप्ता सहित बाइक सवार तीनों सडक़ पर गिर गए। सिर में गंभीर चोट लगने से बाइक चला रहे देवधारी की मौके पर ही मौत हो गई।
वहीं 4 लोग घायल हो गए। दुर्घटना के करीब 15 मिनट बाद उसी रास्ते से अंबिकापुर जा रहे सीतापुर एसडीएम रवि राही ने एंबुलेंस के लिए बीएमओ को फोन किया। लेकिन ड्राइवर उपलब्ध नहीं होने के कारण एंबुलेंस नहीं मिल पाया। फिर डायल 112 की मदद से घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बतौली तक पहुंचाया गया।

मॉडिफाइड जीप की टक्कर से कॉलरीकर्मी की मौत, टक्कर मारकर बोला- जिंदा है या मर गया, फिर हुआ फरार


सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भगवान भरोसे
दुर्घटना में घायलों को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य बतौली में भर्ती कराया गया। यहां अस्पताल की अव्यवस्था के कारण घायलों का तत्काल उपचार शुरू नहीं हो सका। इन्हें इलाज के लिए एक घंटे तक इंतजार करना पड़ा। गंभीर रूप से घायल प्रभु को वार्ड के एक बेड में लिटा कर भगवान भरोसे छोड़ दिया गया था।
road accident
यहां बताया गया कि उसे अंबिकापुर रेफर कर दिया गया है, अब वहीं उसका उपचार होगा। चिकित्सकों के उपलब्ध नहीं होने के कारण 30 बिस्तरीय अस्पताल रेफरल सेंटर के रूप में काम कर रहा है।
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बतौली में एक शव वाहन, एक महतारी एक्सप्रेस, एक एम्बुलेंस है। बतौली को प्रदाय की गई 108 एंबुलेंस और एक अन्य एंबुलेंस कंडम अवस्था में अस्पताल परिसर में खड़े हंै। एक एंबुलेंस से बीएमओ दौरे पर थे।

आधी रात बहन ने भाई से कहा- भाभी ने फांसी लगा ली है, मां ने ससुराल वालों पर लगाए ये गंभीर आरोप


एनएच हुआ जाम, वाहनों की लगी कतार
साढ़े दस बजे दुर्घटना हुई और घायलों को अस्पताल ले जाते साढ़े ग्यारह बजे गए। ऐसे में मौके पर दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। नेशनल हाइवे 43 में सघन आवागमन होने के कारण एक घंटे में ही सैकड़ों वाहनों की कतार लग गई। घायलों व युवक को शव को हटाने के बाद मार्ग में आवागमन शुरू हो सका।

Hindi News/ Ambikapur / एनएच पर बाइक-स्कूटी की भिड़ंत में दशगात्र कार्यक्रम से लौट रहे युवक की मौत, महिला समेत 4 घायल

ट्रेंडिंग वीडियो