America में पहली बार अश्वेत को बनाया गया Air Force प्रमुख, सीनेट के सभी सांसदों ने पक्ष में किया मतदान

HIGHLIGHTS

  • जनरल चार्ल्स ब्राउन जूनियर ( Gen Charles Brown Jr ) को अमरीकी सीनेट ने सर्वसम्मति से वायुसेना के चीफ ऑफ स्टाफ ( Chief of Staff of the Air Force ) पद पर नियुक्ति को मंजूरी दी है।
  • जनरल ब्राउन की नियुक्ति को लेकर हुए मतदान में सभी 96 सांसदों ने पक्ष में वोटिंग की।
  • जनरल ब्राउन हाल ही में अमरीका-प्रशांत वायु सेना के कमांडर ( USA-Pacific Air Force Commander ) रह चुके हैं। वह लड़ाकू पायलट हैं और उनके पास 2,900 घंटे से अधिक समय तक विमान उड़ाने का अनुभव है।

 

By: Anil Kumar

Published: 11 Jun 2020, 07:24 AM IST

वाशिंगटन। अमरीका ( America ) में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड ( George Floyd Death ) की मौत के बाद 140 से ज्यादा शहरों में जारी नस्लवाद के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन ( Protest Against Racism ) के बीच एक बड़ी खबर सामने आई है।

अमरीका ने पहली बार किसी अश्वेत को वायुसेना प्रमुख ( First Black American Air Force Chief ) बनाया है। जनरल चार्ल्स ब्राउन जूनियर ( Gen Charles Brown Jr ) को अमरीकी सीनेट ने सर्वसम्मति से वायुसेना के चीफ ऑफ स्टाफ पद पर नियुक्ति को मंजूरी दी है। इस पर हुए मतदान में सभी 96 सांसदों ने पक्ष में वोटिंग की।

Britain: पीएम बोरिस जॉनसन ने प्रदर्शनकारियों से की अपील, कहा- शांतिपूर्ण तरीके से करें विरोध

अमरीका के अगले वायुसेना प्रमुख की नियुक्ति को लेकर उपराष्ट्रपति माइक पेंस ( Vice President Mike Pence ) ने संसद में मतदान कराया था। अब जब संसद ने सर्वसम्मति से चार्ल्स ब्राउन को वायुसेना प्रमुख चुन लिया है, तब उन्होंने ट्विटर पर वीडियो जारी कर शुक्रिया कहा है। वीडियो में जनरल ब्राउन काफी भावुक नज़र आए।

माना जा रहा है कि प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। इससे पहले अश्वेत प्रदर्शनकारियों और धर्मगुरुओं के पैर धोकर पुलिस ने ये संदेश देने की कोशिश की गई थी कि हम सब बराबर हैं।

भावुक हुए जनरल ब्राउन

जनरल ब्राउन ने कहा कि मैं काफी इमोशनल हो गया हूं। कई ऐसे अफ्रीकी-अमरीकियों ( African-Americans ) के बारे में सोच रहा हूं, जिन्हें जॉर्ज फ्लॉयड जैसी स्थिति का सामना करना पड़ा। मैं नस्लभेदी मुद्दों से जुड़े इतिहास और अपने अनुभवों के बारे में सोच रहा हूं। वायुसेना प्रमुख ( Air Force Chief ) के तौर पर मुझे नामित किए जाने पर मुझे कुछ उम्मीद नजर आ रही है। हालांकि, यह एक बड़ा बोझ भी होगा। मैं अपने पेशेवर रवैये से नस्लीय भेदभाव खत्म करने की कोशिश करूंगा।

George Floyd Death: शिकागो में 31 मई रहा सबसे खूनी दिन, राह चलते लोगों को बनाया गया निशाना

ब्राउन ने आगे यह भी कहा 'मैं वायु सेना में अपने करियर के बारे में सोच रहा हूं जहां अपने स्क्वाड्रन में मैं इकलौता अफ्रीकी अमेरिकी था या एक वरिष्ठ अधिकारी के तौर पर कमरे में अकेला अफ्रीकी-अमरीकी था।' बता दें कि जनरल ब्राउन हाल ही में अमरीका-प्रशांत वायु सेना के कमांडर ( USA-Pacific Air Force Commander ) रह चुके हैं। वह लड़ाकू पायलट हैं और उनके पास 2,900 घंटे से अधिक समय तक विमान उड़ाने का अनुभव है।

अमरीकी सेना में अश्वेता की संख्या बहुत कम

अमरीकी वायुसेना ( America Air Force ) या अन्य विभागों में ऊंचे पदों पर काफी कम संख्या में अश्वेत अफसर या अधिकारी हैं। पेंटागन यानी रक्षा मंत्रालय ( Defence Ministry ) के आंकड़ों के अनुसार, अमरीकी सेना में 18.7 फीसदी जवान अश्वेत हैं, वहीं ऊंचे पदों पर 71.6 फीसदी श्वेत अफसर नियुक्त हैं। अश्वेत अफसरों ( Black Officers ) की संख्या सिर्फ 8.8 फीसदी है। अब सभी मिलिट्री सेवाओं ( Millitry Service ) के प्रमुखों ने फ्लॉयड की मौत के बाद अपनी इकाइयों में इस मुद्दे का समाधान ढूंढने की बात कही है।

George Floyd Death: America में प्रदर्शनकारियों ने कोलंबस की प्रतिमा तोड़ी, आग लगाकर नदीं में फेंका

गौरतलब है कि बीते 25 मई को मिनियापोलिस ( Minneapolis ) में पुलिस हिरासत में जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद अमरीका में भारी विरोध प्रदर्शन हो रहा है। प्रदर्शनकारी लगातार नस्लवाद के खिलाफ सड़कों पर उतरकर विरोध जता रहे हैं। कई जगहों पर आगजनी और हिंसक घटना भी देखने को मिली है। यही कारण है कि अमरीकी सरकार ने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए मिलिट्री को तैनात कर दिया है और कई शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned