इस गांव में लगे गठबंधन प्रत्याशियों की 'नो एंट्री' के चेतावनी बोर्ड, सोशल मीडिया पर वायरल

इस गांव में लगे गठबंधन प्रत्याशियों की 'नो एंट्री' के चेतावनी बोर्ड, सोशल मीडिया पर वायरल

lokesh verma | Publish: Apr, 07 2019 09:40:14 AM (IST) | Updated: Apr, 07 2019 09:40:15 AM (IST) Amroha, Amroha, Uttar Pradesh, India

  • अमरोहा के फरीदपुर गांव के बाहर लगा 'मैं भी चौकीदार हूं' यहां गठबंधन प्रत्याशी का आना मना है का बोर्ड
  • ग्रामीण बोले- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी की तीन दशक पुरानी मांग
  • ग्रामीणों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि भूलवश भी गांव में घुसे तो अपनी जान-माल के खुद जिम्मेदार

अमरोहा. 'मैं भी चौकीदार हूं' का नारा 2019 के लोकसभा चुनाव में छाया हुआ है। ताजा मामला अमरोहा जिले के गांव फरीदपुर का है। जहां के ग्रामीणों ने गांव के बाहर 'मैं भी चौकीदार हूं' यह गांव चौकीदारों का है, यहां गठबंधन प्रत्याशी का आना मना है लिखते हुए बोर्ड लगा दिया है। ग्रामीणों की आेर से लगाया गया यह बोर्ड अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। फरीदपुर के ग्रामीणों का कहना है कि वह पिछले तीन दशक से किसान सम्मान निधि योजना की मांग कर रहे थे, जिसे पीएम मोदी ने मानते हुए 6 हजार रुपये देने योजना बनाकर किसान हित में एक बड़ा फैसला लिया है।

यह भी पढ़ें- शिवपाल यादव के मंच पर हुआ हादसा, बाल-बाल बची जान

बता दें कि यूपी-दिल्ली बार्डर पर अक्टूबर में किसानों पर लाठीचार्च किया गया था, जिसके बाद सहारनपुर आैर बिजनौर समेत वेस्ट यूपी के कर्इ गांवों में भाजपा नेताआें के घुसने पर प्रतिबंध लगाते हुए बोर्ड लगा दिए गए थे। लेकिन, लोकसभा चुनाव से पहले अमरोहा जिले के फरीदपुर गांव के बाहर ग्रामीणों ने गठबंधन प्रत्याशी के घुसने पर प्रतिबंध संबंधित बोर्ड लगा दिया है। इस बोर्ड पर लिखा है कि 'मैं भी चौकीदार हूं' यह गांव चौकीदारों का है। यहां गठबंधन प्रत्याशी का आना मना है। इतना ही नहीं ग्रामीणों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि वह भूलवश भी गांव में घुसने की कोशिश न करें। अन्यथा अपनी जान-माल के खुद जिम्मेदार होंगे। अब यह बोर्ड सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हाे रहा है।

यह भी पढ़ें- चुनाव से पहले शिवपाल यादव के प्रत्याशी ने छोड़ा मैदान, सपा को फायदा तय

बोर्ड को लेकर जब ग्रामीणों से बात की गर्इ तो उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने यहां के किसानों की तीन दशक पुरानी मांग को पूरा करके सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण लंबे समय से किसान सम्मान निधि योजना के तहत राहत राशि की मांग कर रहे थे, जिसे पूरा करते हुए पीएम मोदी ने 6 हजार रुपये देने की योजना बनार्इ है। उनका कहना है कि पीएम मोदी ने पाकिस्तान को भी मुंहतोड़ जवाब दिया है। इसलिए वह भाजपा का खुला समर्थन कर रहे हैं। बता दें कि गांव इस तरह के कर्इ बोर्ड गांव में लगाए हैं।

यह भी पढ़ें- हवन के लिए जा रही जयाप्रदा को जंगल में ले गए भाजपाई, इसके बाद जो हुआ, वीडियो में देखें पूरा नजारा

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned