पाकिस्तानी लड़कियों की तस्करी कर रहे चीनी, झूठी शादी कर देह व्यापार में धकेल रहे

पाकिस्तानी लड़कियों की तस्करी कर रहे चीनी, झूठी शादी कर देह व्यापार में धकेल रहे

Mohit Saxena | Publish: May, 05 2019 11:20:46 AM (IST) | Updated: May, 05 2019 03:04:37 PM (IST) एशिया

  • लड़कियों को चीनी भाषा का ज्ञान दिया जाता है
  • फेडेरल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी ने छापा मारा
  • जांच एजेंसी ने चीनी दुल्हे को गिरफ्तार किया

बीजिंग। चीन की विस्तारवादी सोच किसी से छिपी नहीं है। वह जहां पर भी पांव पसारता है उसे अपना बनाने की कोशिश में जुट जाता है। इसका खामियाजा उसका पक्का दोस्त पाकिस्तान भी उठा रहा है। चीन ने एक तरफ जहां चार बार आतंकी मसूद अजहर को बचाने के लिए यूएन में वीटो किया, वहीं सीपीसीई (चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे) के तहत पाकिस्तान का दोहन करने में लगा है। चीन आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान में सीपीईसी (चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे) का निर्माण कर रहा है। चीन यहां पर आराजकता का माहौल भी बना रहा है। ऐसी कई खबरें आ रही हैं कि पाकिस्तान में रह रहे ये चीनी वहां की लड़कियों की तस्करी कर रहे हैं। इन लड़कियों से वे झूठी शादी करते हैं और इन्हें चीन जाकर बेच देते हैं या फिर वहां इन्हें देह व्यापार के धंधे में धकेल दिया जाता है। केवल इतना ही नहीं शादी के बाद इन लड़कियों को चीनी भाषा का ज्ञान भी दिया जाता है। चीनी लड़के मुस्लिम ही नहीं बल्कि ईसाई लड़कियों को भी निशाना बना रहे हैं।

पाकिस्तान में भारतीय राजनयिकों के साथ बदसलूकी, गुरुद्वारे के कमरे में बंद कर दी धमकी


गैंग का खुलासा किया

हाल ही में एक गैंग का खुलासा हुआ है। जो इन लड़कियों की तस्करी करके चीन ले जा रहा था। गुरुवार को फेडेरल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एफआईए) ने ऐसे गैंग का खुलासा किया। उसने इसके कई सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गैंग इन लड़कियों को झूठी शादी के नाम पर फंसाता था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एफआईए ने फैसलाबाद में हो रही एक शादी में छापा मारा और चांग नाम के चीनी दूल्हे को गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान लड़की के पिता जाहिद, शादी कराने वाले काजी, एक चीनी महिला और कुछ अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया।

शरीर के अंगों को निकाल लिया जाता है

पाकिस्तान के उत्तरी पंजाब और लाहौर में भी इस तरह की झूठी शादी के बाद लड़कियों को चीन ले जाया जाता है। यहां उनके शरीर के अंगों को निकाल लिया जाता है। इस मुद्दे को एक पाकिस्तानी नेता ने संसद में उठाया। इसके बाद इस्लामाबाद स्थित चीनी दूतावास ने एक बयान जारी कर कहा कि चीन और पाकिस्तान दोनों कानून के शासन को मानते हैं। मानव तस्करी और मानव अंगों की बिक्री का दृढ़ता से विरोध करते हैं। वहीं चीन ने इस रिपोर्ट को आधारहीन बताया है। इस रिपोर्ट के अनुसार चीनी लोग पाकिस्तान में अवैध मैचमेकिंग सेंटर चला रहे हैं। इसके सहारे गरीब परिवारों को लालच देकर चीनी लड़कों से शादी कराई जाती है। ये सेंटर शादी का पूरा खर्च उठाने की बात भी करते हैं।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

 

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned