मनमुताबिक माइलेज नहीं दे रही आपकी कार तो अपनाएं ये तरीके, एक हफ्ते में दिखेगा फर्क

आपको पैसे खर्च करने की ज़रूरत नहीं पड़ती है, आपको बस कार चलाने का सही तरीका जानना होता है। तो चलिए जानते हैं क्या है कार चलाने का सही तरीका।

Vineet Singh

January, 1903:45 PM

नई दिल्ली: अगर आपको बाइक चलाने का सही तरीका नहीं आता है तो आप अपनी कार से बेहतरीन माइलेज नहीं हासिल कर सकते हैं। ऐसे में अगर आपकी कार भी अच्छा माइलेज नहीं देती है तो हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिनसे आप अपनी कार के माइलेज को बढ़ा सकते हैं। इसके लिए आपको पैसे खर्च करने की ज़रूरत नहीं पड़ती है, आपको बस कार चलाने का सही तरीका जानना होता है। तो चलिए जानते हैं क्या है कार चलाने का सही तरीका।

एडवेंचर के शौकीनों के लिए बेस्ट है ये बाइक गैजेट्स, 500 से शुरू होती है कीमत

ट्रैफिक वाले रास्तों को न चुनें- अधिक ट्रैफिक वाली जगहों पर लगातार गियर बदलने होते हैं, जिसकी वजह से पेट्रोल की खपत अधिक हो जाती है। अगर आप ट्रैफिक में फंस गए हैं तो गियर को धीरे बदलें और अगर जरूरत नहीं है तो इंजन को बंद कर दीजिए। इसी के साथ आप अधिक ट्रैफिक वाली जगहों पर हैं जहां पर वाहन हिल नहीं पा रहा है तो वहां पर इंजन को बंद कर दें और ट्रैफिक सिग्नल पर भी इंजन को बंद ही रखें।

हैवी ब्रेकिंग और तेज रेस न दें- तेज रेस देने के मतलब है कि आरपीएम हाई हो गया है और ऐसे में पेट्रोल बहुत तेजी से कम होता है। ये सलाह है कि एक्सीलेटर को धीरे से दें और गियर को सही आरपीएम पर ही बदलें। इसी के साथ अचानक से ब्रेक दबाने से भी पेट्रोल की खपत अधिक होती है, अचानक ब्रेक दबाने से एक्सीडेंट का भी खतरा रहता है और पेट्रोल की भी बचत होती है।

तेज गति में न चलाएं- जो लोग कार को तेज गति में चलाते हैं तो उससे पेट्रोल की खपत अधिक होती है। इसके लिए आपक टॉप गियर में कार को 60 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चलाएंगे तो पेट्रोल की खपत कम होगी। इससे कार आसानी से कंट्रोल में भी रहती है।

टाटा की इस धाकड़ SUV की खरीद पर मिल रहा बंपर डिस्काउंट

एसी- जब जरूरत नहीं है तो एसी को बंद कर दीजिए, क्योंकि इससे भी कार के माइलेज पर बहुत ज्यादा असर होता है।

टायर में हवा का प्रेशर- अगर टायर में हवा का प्रेशर ठीक रहेगा तो इससे टायर फटने का खतरा भी नहीं रहेगा और माइलेज भी ठीक रहेगा। जैसे अगर टायर में हवा का प्रेशर कम होता है तो इससे इंजन पर लोड ज्यादा आएगा, क्योंकि इंजन को अधिक पावर की जरूरत होगी। अगर इंजन को ज्यादा पावर की जरूरत होगी तो इससे सीधे तौर पर कार का माइलेज घटेगा।

Vineet Singh Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned