छुट्टी लेकर घर आए बीएसएफ जवान की लाइसेंसी बंदूक की गोली लगने से हुर्इ मौत, जांच में जुटी पुलिस

छुट्टी लेकर घर आए बीएसएफ जवान की लाइसेंसी बंदूक की गोली लगने से हुर्इ मौत, जांच में जुटी पुलिस

Nitin Sharma | Publish: Jun, 04 2019 07:24:34 PM (IST) | Updated: Jun, 04 2019 07:24:35 PM (IST) Bagpat, Bagpat, Uttar Pradesh, India

मुख्य बिंदु

  • घर पर 15 दिनों की छुट्टी पर आया था बीएसएफ जवान
  • देर रात घर लौटकर अचानक गोली चलने से चली गई जान
  • पता लगते ही जांच में जुटे पुलिस अधिकारी

बागपत। छपरौली थाना क्षेत्र के बदरखा गांव में छुट्टी पर घर आए बीएसएफ के जवान की सोमवार रात लाइसेंसी बंदूक से गोली चलने से मौत हाे गर्इ। गोली चलने की आवाज सुनते ही घर में भगदड़ गर्इ। घर के लोग घायल जवान को लेकर अस्पताल पहुंचे। जहां डाॅक्टरों न उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच में जुटी है। मृतक के छोटे भाई ने थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराई है।

मकान की नालियों से बह रहा था खून अंदर का नजारा देख पुलिस के भी उड़ गये हाेश- देखें वीडियो

 

news

जवान की अपनी लाइसेंसी राइफल से ही चली गोली

बदरखा गांव निवासी मोहन लाल उर्फ मोनू 2005 मे त्रिपुरा में बीएसएफ में भर्ती हुए थे। वह 26 मई को 15 दिन के अवकाश पर अपने घर आये थे। घर पर अपनी पत्नी अनु, दो बच्चे आैर मां व भार्इ सोनू के साथ हंसी खुशी से छुट्टी बिता रहा थे। बीएसएफ जवान मोहन लाल के भाई सोनू ने बताया की सोमवार को मोहनलाल अपनी लाइसेंंसी राइफल को साथ लेकर बड़ौत में अपने प्लाट पर मकान की नींव भराने गये थे। वह बड़ौत से घर देर रात में लौटे। वह जैसे ही घर पहुंचे उन्हें छत पर बने कमरे में कुछ नीचे गिरने की अावाज सुनार्इ दी। इसके बाद वह सामन रखकर वापस अपनी राइफल लेकर जीने से उतरने लगे, तो उनका पैर फिसल गया। इससे लोड हुई राइफल से गोली चल गर्इ। गोली मोहन लाल के सिर में जा लगी। इससे उसकी मौके पर ही मौत हाे गर्इ। परिवार के लोग उन्हें आनन फानन में अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 

news

ट्रैक्टर ने आगे चल रहे ऑटो में मारी जोरदार टक्कर, शीशा तोड़कर सड़क पर जा गिरा चालक - देखें वीडियो

सूचना मिलने पर पहुंचे अधिकारियों ने किया निरीक्षण

तहरीर के आधार पर पुलिस ने मामला पंजीकृत कर मृतक के शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। वहीं मंगलवार की सुबह घटना के निरीक्षण के लिये एएसपी कुमार रणविजय सिंह व रमाला सीओ अनुज चौधरी जवान के घर पहुंचे। यहां उन्होंने परिजनों व पड़ोसियों से पूछताछ की। दूसरी तरफ गांव व पड़ोसियों ने चर्चा करते हुए बताया कि मोहनलाल व उसकी पत्नी में काफी दिन से तनाव बन हुआ था। मोहनलाल के शराब पीने को लेकर अक्सर झगडा होता रहता था। सोमवार रात्री मे भी दोनों का जमकर झगड़ा हुआ। इसके बाद मोहनलाल ने खुद को गोली मार ली। हालांकि पुलिस मृतक के छोटे भाई सोनू की तहरीर के आधार पर मामला पंजीकृत कर जांच में जुटी है। साथ ही परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned