यूपी में अब महिला पुलिस संभालेंगी यातायात व्यवस्था, युवतियों व महिलाओं का भी होगा चालान

यूपी में अब महिला पुलिस संभालेंगी यातायात व्यवस्था, युवतियों व महिलाओं का भी होगा चालान

Neeraj Patel | Updated: 16 Jun 2019, 08:19:00 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

जिले की बिगड़ी यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए अब महिला पुलिस कर्मियों को लगाया गया है।

बांदा. जिले की बिगड़ी यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए अब महिला पुलिस कर्मियों को लगाया गया है। ये महिला पुलिसकर्मी न सिर्फ हेलमेट व सीट बेल्ट के लिए चालकों को जागरूक करेंगी बल्कि कार व स्कूटी चला रही युवतियों व महिलाओं का चालान भी कटेंगी। अभी तक पुरूष पुलिस कर्मियों के पास जिम्मेदारी होने के कारण महिलाएं आसानी से बच जाती थी, मगर अब ऐसा नहीं हो सकेगा क्यूंकि अब जिले की कमान महिला पुलिस को दी गई है। बांदा एसपी खुद भी पुलिस टीम के साथ चौराहों में खड़े होकर लोगों को हेलमेट व सीट बेल्ट के लिए जागरूक कर रहे हैं।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकार का बड़ा कदम, यूपी के 57 जिलों में एक साथ चलेगा अभियान, बुंदेलखंड के तीन जिले भी शामिल

जनपद में बढ़ रहे हादसों को देखते हुए बांदा एसपी गणेश साहा ने एक नई व्यवस्था लागू की है। इसके तहत जिले की यातायात व्यवस्था की कमान अब महिला पुलिस कर्मियों को सौंपी गई है। जिसका उद्देश्य है कि यातायात नियमों का पालन न करने वाले चालकों को एक महिला के टोकने पर शार्मिंदगी महसूस होगी। वह यातायात नियमों का पालन करने के लिए जल्दी प्रेरित होंगे। दूसरी ओर महिला दो पहिया वाहन चालकों से अभी तक पुरूष पुलिस कर्मी टोकने में संकोच करते थे। इस समस्या से भी अब छुटकारा मिल जाएगा। इसके अलावा यातायात पुलिस कर्मियों की कमी भी दिखाई नहीं देगी।

बांदा जनपद में ये अभियान लगभग एक हफ्ते से जारी है। पहले चरण में इस कार्य के लिए दो महिला निरीक्षक दो एसआई व 30 महिला कर्मियों को लगाया गया है। प्रमुख चौराहों व चिहित क्षेत्रों में सुबह से ही महिला पुलिस कर्मी की मौजूदगी नजर आ रही है।

मलेरिया से है बचना तो मच्छरों से ऐसे करें बचाव

यातायात निरीक्षक सविता श्रीवास्तव के नेतृत्व में वाहनों के कागजों के साथ सीट बेल्ट व हेलमेट न धारण करने वालों की उनकी ओर से खास तौर पर जांच की जा रही है। यातायात नियमों की अनदेखी करने वालों को चेतावनी देने के साथ कार्रवाई भी की जा रही है। सीओ यातायात राघवेंद्र सिंह व सीओ सिटी राजीव प्रताप सिंह, महिला पुलिस कर्मियों के इस सराहनीय कार्य की मानीटरिग कर रहे हैं। बांदा में यातायात व्यवस्था में सुधार के लिए नई पहल की गई है। नई व्यवस्था का सकारात्मक रूप सामने आ रहा है। इससे और महिला पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ाई जाएगी। महिला पुलिस कर्मी भी इस कार्य के लिए उत्साहित हैं।

यातायात नियमों की अनदेखी करने वाले लगभग चार सौ वाहन चालकों के विरुद्ध कार्रवाई की गई है, जिसमें वाहन चालकों से करीब 73 से 75 हजार रुपये की वसूली की गई है। शहर के प्रमुख स्थान अलीगंज पुलिस चौकी, महाराणा प्रताप चौक, कालूकुआं, बलखंडी नाका, महश्वेरी देवी चौक आदि जगहों को चेकिग प्वाइंट बनाया गया है इसके अलावा आवश्यकता अनुसार चेकिग प्वाइंट में परिवर्तन भी किया जाता है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned