सज्जनगढ़ में कवि सम्मेलन : ‘विश्व गुरु का सपना तभी साकार कर पाओगे, पीओके में अमर तिरंगा खुद जाकर फहराओगे’

सज्जनगढ़ में कवि सम्मेलन : ‘विश्व गुरु का सपना तभी साकार कर पाओगे, पीओके में अमर तिरंगा खुद जाकर फहराओगे’
सज्जनगढ़ में कवि सम्मेलन : ‘विश्व गुरु का सपना तभी साकार कर पाओगे, पीओके में अमर तिरंगा खुद जाकर फहराओगे’

Varun Kumar Bhatt | Publish: Oct, 09 2019 03:02:13 PM (IST) | Updated: Oct, 09 2019 03:02:14 PM (IST) Banswara, Banswara, Rajasthan, India

Kavi Sammelan In Banswara : वीर, हास्य एवं शृंगार रस की कविताओं की बही त्रिवेणी

सज्जनगढ़/बांसवाड़ा. कस्बे के उच्च माध्यमिक विद्यालय मैदान में पंचायत सज्जनगढ़ एवं भामाशाह के सहयोग से अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ। कवि सम्मेलन में कवियों ने देशभक्ति के साथ-साथ विभिन्न समसामयिक विषयों पर केंद्रित कविताओं से श्रोताओं को देर तक बांधे रखा। सरस्वती वंदना से शुरू कवि सम्मेलन में कवियित्री कविता किरण ने शृंगार के गीत पढ़ें। कवियित्री ज्योति त्रिपाठी ने बेटियां देश का मान सम्मान है, बेटियां तो घर की शान है, बेटियां तो मां की ममता है... कविता के माध्यम से नारी शक्ति के महत्व को बताया। वीर रस के कवि योगेंद्र शर्मा ने देशभक्ति से जुड़ी कविताओं के माध्यम से खूब तालियां बटोरी। शर्मा ने अगर सियासत रंग न होता, संविधान की वर्दी पर, आतंकी घटनाओं को कोई नादान नहीं करता, सही वक्त पर सरेआम अफजल को फांसी दी होती, भारत में घनघौर धमाके वो शैतान नही करता एवं एक अन्य कविता ‘विश्व गुरु का सपना भी साकार तभी कर पाओगे, पीओके में अमर तिरंगा खुद जाकर फहराओगे ’ कविता पढ़ी। सम्मेलन में धार के कवि जानी बैरागी ने अपने चिरपरिचित अंदाज में एक के बाद हक हास्य की कविताएं पढ़ श्रोताओं को खूब हंसाया। हास्य व्यंग्य के कवि राकेश शर्मा ने भी मौजूदा हालातों पर व्यंग्य करते हुए रचना पढ़ श्रोताओं को चिंतन सागर में गोते लगाने को मजबूर कर दिया। कवि डॉ. संजय आमेटा ने वागड़ी हास्य पैरोड़ी एवं गीतकार सतीश आचार्य ने देश भक्ति गीतों के साथ ही प्लास्टिक हटाओं मुहिम पर केंद्रित रचना पढ़ी। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विकास अधिकारी रमेश पटेल रहे। अध्यक्षता सरपंच लालू डिन्डोर ने की। सम्मेलन में ब्लॉक कांगेस अध्यक्ष रमेश लबाना, नटवरलाल लबाना, भाजपा जिला उपाध्यक्ष प्रताप पटेल, एसीबीओ रुपजी बारिया, किशन नायक, मूलचन्द कलाल, भरत मेरावत बतौर अतिथि मौजूद रहे। संचालन कवि बृजमोहन तूफान ने किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned