मुआवजे को लेकर अड़े, 3 घंटे बाद शव संभाला

मृतक के पुत्र का बारां में इलाज चल रहा है

By: mukesh gour

Published: 14 Jun 2021, 11:37 PM IST

कवाई. मुसई गुजरान में शनिवार रात को बिजली का तार टूटने से हुए एक जने की मौत पर हंगामा हो गया। रविवार सुबह परिजनों ने शव को लेने से इनकार कर दिया। इसके बाद वे तीन घंटे तक मुआवजे की मांग को लेकर स्वास्थ्य केंद्र पर धरना प्रदर्शन करते रहे। बाद में विद्युत विभाग के अभियंता ने लिखित में पांच लाख रुपए का मुआवजा देने का आश्वासन देने के बाद परिजनों ने शव लिया। घटना में पांच लोग घायल हो गए थे। इनमें से मृतक के पुत्र का बारां में इलाज चल रहा है।

read also : अलर्ट जारी : 13 से 16 जून तक ऐसा रहेगा राजस्थान का मौसम
यह था मामला
मृतक का स्वास्थ्य केंद्र पर पोस्टमार्टम चल रहा था। सुबह वहां परिजन व ग्रामीण पहुंच गए और मुआवजे की मांग पर अड़ गए। पुलिस ने समझाइश कर मामला शांत करवाना चाहा तो ग्रामीणों की भीड़ बढ़ती गई। मामला बिगड़ता देख अतिरिक्त पुलिस बल बुलवाया गया और पुलिस उपाधीक्षक श्योजीलाल मीणा ने ग्रामीणों से समझाइश की। ग्रामीण 10 लाख के मुआवजे की मांग को लेकर अड़े रहे। जानकारी मिलने पर उपखंड अधिकारी दिनेश बालोत ने पहुंच कर ग्रामीणों को आश्वासन दिलाया कि मृतक के परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से भी मुआवजा दिलवाने का प्रयास किया जाएगा। ग्रामीण व भाजपा कार्यकर्ता विद्युत विभाग के अधिकारियों को बुलवाकर लिखित में मुआवजे की बात पर अड़े रहे। दो घंटे तक कोई भी धरना स्थल पर नहीं पहुंचा। उसके उपरांत वहां पहुंचे विद्युत विभाग के अभियंता शेरसिंह मीणा को लोगों ने विद्युत विभाग के कर्मचारियों की लापरवाही बताते हुए इस हादसे में हुई मौत पर मुआवजा देने की मांग की।

read also : बारां-झालावाड़ में प्री-मानसून की जोरदार बारिश

रविवार रात को कवाई स्वास्थ्य केंद्र पर इलाज के दौरान घायल मृतक के पुत्र घासी लाल ने पर्चा बयान दिया कि रात 9 बजे 11 केवी लाइन का तार टूट कर एलटी लाइन पर गिर गया। इससे घरों में करंट का प्रवाह हो गया था। इस दौरान घायल घासी लाल मोबाइल को चार्ज पर लगाने पहुंचा तो करंट की चपेट में आ गया। उसे बचाने के लिए पहुंचे उसके पिता छीतर लाल की मौके पर ही मौत हो गई। मृग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
किरदार अहमद, थाना प्रभारी, कवाई

Show More
mukesh gour
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned